BJP की बढ़ती मुश्किलें, पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ला के भाई समेत कई नेता कांग्रेस में शामिल

भोपाल: लोकसभा चुनाव के मद्दे नजर दलबदल का दौर जारी है। इसी कड़ी में विंध्य में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। विंध्य के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल के भाई विनोद शुक्ला कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। शनिवार को भोपाल में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शुक्ला को कांग्रेस की सदस्यता दिलाई। शुक्ला इससे पहले 2013 में भी कांग्रेस में शामिल हुए थे, इसके बाद फिर वे कांग्रेस से बाहर चले गए थे।

जानकारी के अनुसार, विंध्य के कद्दावर नेता और शिवराज सिंह मंत्रिमंडल के मंत्री रहे राजेंद्र शुक्ला के भाई विनोद शुक्ला ने शनिवार को कांग्रेस का दामन थाम लिया है। चुनावी दौर में विनोद शुक्ला का कांग्रेस में जाना बीजेपी की मुश्किलें बढ़ा सकता है। शुक्ला के अलावा कई और लोगों ने भी कांग्रेस की सदस्यता ली है। रिटायर मेजर जनरल श्याम श्रीवास्तव, मैहर के नपाध्यक्ष धीरज पांडेय और सतना की पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष रश्मि सिंह ने भी कांग्रेस का दामन थाम लिया। सीएम कमलनाथ ने पर्ची काटकर सभी को सदस्यता दिलाई। इस दौरान कमलनाथ ने बड़ा बयान देते हु एक कहा कि आज कांग्रेस मे शामिल होने वाले सच्चाई देख रहे हैं। मध्य प्रदेश में 22 से ज्यादा सीटों पर कांग्रेस की जीत होगी, वहीं बीजेपी इस बार देश में 160 सीटों पर सिमट जाएगी।

वहीं कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करने के बाद विनोद शुक्ला का कहना है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की न्यूनतम आय गारंटी योजना और बीजेपी की बांटने की राजनीति की वजह से उन्होंने यह फैसला लिया है। बीजेपी से मोहभंग होने की बात पर विनोद शुक्ला ने कहा कि आज देश में जितना भी विकास दिख रहा है, वह कांग्रेस की देन है।