शिविर में न्यायाधीश ने बंदियों को बताए कानूनी अधिकार

आरती शर्मा 

लहार|जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में शनिवार को लहार उप जेल में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान न्यायाधीश राजकुमार भद्रसेन, संगप्रिया भद्रसेन ने जेलर अमरनाथ कटियार के साथ जेल का निरीक्षण किया। जेल के अंदर बैरकों आदि का निरीक्षण कर बंदियों की परेशानी जानने का प्रयास किया। हालांकि निरीक्षण के दौरान किसी प्रकार की गड़बड़ी जेल में प्राप्त नहीं हुई। साफ-सफाई की व्यवस्था भी दुरस्थ पाई गई। विधिक साक्षरता मिशन न्यायाधीश श्री भद्रसेन द्वारा कैदियों को अधिकार के बारे में जानकारी दी गई। उन्होंने कहा कैदियों को भी भारतीय कानून में मौलिक अधिकार प्रदान किए गए हैं। जिनका उपयोग वह उस अवस्था में कर सकते हैं जब किसी प्रकार का अन्याय या अत्याचार उनके खिलाफ होता है। अगर खाने पीने व रहने में किसी प्रकार की परेशानी होती है तो कैदी इसका समाधान मांग सकते हैं।