हत्या कर भूसे में छिपा दिया था शव

रुपेश जैन 

8 दिन पहले एमसीअार इंडस्ट्री के कारखाने में भूसे के ढेर में मृत मिले मशीन अाॅपरेटर लल्ला गाैतम की हत्या के मामले में पुलिस अाराेपी तक पहुंच गई है। इस मामले में पुलिस ने अाराेपी लसूड़लिया रामनाथ निवासी साेनू उर्फ साेहन सिंह घाेसी काे गिरफ्तार कर लिया है। उत्तरप्रदेश के हरदाैई के रहने वाले लल्ला की हत्या 22 मार्च की रात करीब 8.30 बजे फैक्ट्री परिसर में ही हुई थी। मामले का खुलासा मृतक के फाेन की काॅल डिटेल्स से हुअा। जिसमें युवती के नंबर पर हुई बातचीत की जानकारी के अाधार पर जांच अागे बढ़ी। युवती अाराेपी के ही गांव की रहने वाली है।

एसडीअाेपी नागेंद्र सिंह बेस ने बताया कि फैक्ट्री में काम करने वाली एक स्थानीय युवती से लल्ला की बढ़ती नजदीकियाें से साेनू नाराज था। हत्या वाले दिन लल्ला ने युवती काे मिलने के लिए फैक्ट्री में बुलाया था। इसकी भनक अाराेपी काे लग गई थी अाैर उसने माैके पर पहुंचकर लल्ला से विवाद किया। इसी दाैरान उसने लल्ला पर वार किया अाैर मुंह व गला दबाकर लल्ला की हत्या कर दी। शव के हाथ में रस्सी बांधकर भूसे के ढेर में छिपा दिया। दाे दिन बाद 24 मार्च काे भूसे पर ढंका तिरपाल हटने से मृतक के दबे होने का पता चला था।

मृतक लल्ला।

युवती से पूछताछ में सामने अाया सच

काॅल डिटेल के अाधार पर जब पुलिस ने युवती से पूछताछ की ताे पूरे मामले का खुलासा हुअा। युवती भी लसूड़लिया रामनाथ की रहने वाली है, जहां का अाराेपी है। मामले का खुलासा करने वाली पुलिस टीम में थाना प्रभारी अारएस दिवाकर, पवन भदाैरिया, महेश गंधर्व, संताेष सिंह, बलवीर सिंह लांबा, मेहरबान सिंह मेवन, पीएल उइके, वीरेंद्र माैर्य, लाखन, वीरेंद्र रावत, विकास यादव, प्रताप सिंह, राजेश यादव के साथ साइबर सेल के शशांक सिंह शामिल थे।