लोकसभा चुनाव: संतों ने की बगावत, आश्रमों से निकलकर BJP को देंगे चुनौती

भोपाल: आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर मौजूदा मोदी सरकार की राह आसान नहीं दिख रही है। अब मध्यप्रदेश के हजारों संत फिर हुए एक और भाजपा को खुली चुनौती दे दी है। अखाड़ा परिषद के महामंडलेशर स्वामी बैरागयानंद गिरी के नेतृत्व में संतों ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात कर, मुरैना से कांग्रेस की टिकट बलबीर सिंह डंडोतिया को देने की मांग की है। साथ ही ये चेतावनी भी दी अगर संतों की मांग नहीं मानी गई, तो कांग्रेस को इसका खमियाजा भी उठाना पड़ सकता है।

लोकसभा चुनाव  में समीकरण बना और बिगाड़ सकते हैं संत
मध्यप्रदेश के बीते विधानसभा चुनाव में आचार्य प्रमोद कृष्णम और कम्प्यूटर बाबा की अगुवाई में शिवराज सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए बिगुल बजाया था। वो कामयाब भी हुए थे। ठीक उसी तर्ज पर संत, महात्मा एक बार फिर आगामी लोकसभा चुनाव के समीकरण बना और बिगाड़ सकते है। अब अखाड़ा परिषद के महामंडलेशर स्वामी बैरागयानंद गिरी  महाराज जो अपने साथ  20 हजार संतों के साथ कांग्रेस के समर्थन में उतर आए हैं। इनका मकसद मध्यप्रदेश के मुरैना से भाजपा प्रत्याशी नरेंद्र सिंह तोमर को करारी मात देना है।