जयाप्रदा का छलका दर्द, कहा- SP में रहते की गई बदसलूकी, किसी ने नहीं दिया साथ

लखनऊ: भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रही जयाप्रदा का दर्द एक इंटरव्यू में छलक आया। उन्होंने बताया कि कैसे समाजवादी पार्टी में रहते हुए उनके साथ बदसलूकी की गई और किसी ने साथ तक नहीं दिया। जया ने बिना नाम लिए आरोप लगाए कि आज़म खान के प्रभाव के चलते मुलायम सिंह यादव भी कुछ नहीं बोल पाते थे।

जयाप्रदा ने कहा कि पहले उनकी (आज़म खान) ही च्वाइस थी, मुझे रामपुर (लोकसभा चुनाव लड़ाने के लिए) ले जाना है। उन्होंने ही मुझे चुनाव लड़ाया लेकिन कुछ दिनों के बाद मेरी उनके साथ वह बात नहीं रही। मैं हमेशा उनका सम्मान करती रही चाहे वह मुझे कितनी भी गालियां दें या बदतमीजी से बात करें फिर भी मैं उन्हें कुछ नहीं बोलती थी। आगे जयाप्रदा ने कहा कि पहले मेरी ही पार्टी मेरे साथ नहीं रहती थी। मेरा पार्टी में विरोध होता था। फिर भी मुलायम सिंह यादव मेरा साथ नहीं देते थे। मेरे ऊपर हमले होते थे।

उन्होंने कहा कि मैं एक निर्वाचित सांसद होते हुए भी अपने क्षेत्र (रामपुर) में नहीं रहती थी। मैं मुरादाबाद रात को आती थी, वहीं सोती थी। फिर अगले दिन अपने क्षेत्र में जाती थी। वहां (रामपुर) मुझे ना तो रैस्ट हाऊस मिलता था, ना ही रुकने की कोई जगह मिलती थी। जयाप्रदा ने कहा कि रामपुर में एक कद्दावर नेता की वजह से मुझे वहां पर कोई सपोर्ट नहीं करता था।