विवेक तन्खा का पलटवार, क्या अरुण जेटली किसानों को आतंकी समझते है ?

जबलपुर: कांग्रेस के घोषणा-पत्र को केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली द्वारा देश को तोड़ने वाला बताए जाने के बयान पर कांग्रेस के राज्यसभा सांसद और मेनिफेस्टो कमेटी के सदस्य विवेक तन्खा ने तीखा प्रहार करते हुए पलटवार किया है। विवेक तन्खा ने कहा कि अरुण जेटली ने कांग्रेस के घोषणा-पत्र बहुत गलत बयान दिया है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने कर्ज ना चुका पाने वाले किसानों को जेल जाने से बचाने के लिए सीआरपीसी में संशोधन का वादा किया है ना की आतंकियों को बचाने के लिए। तन्खा ने बीजेपी और अरुण जेटली पर हमला बोलते हुए कहा कि क्या वो इस देश के किसानों को आतंकी समझते हैं। तन्खा ने कहा कि कांग्रेस का मैनिफेस्टो बहुत सोच समझ के बनाया गया है जिसमें सीधे देश से गरीबी को मिटाने के लिए सर्जिकल स्ट्राईक की गई है।

बता दें कि कांग्रेस के घोषणापत्र पर केंद्रीय वित्त मंत्री और भाजपा नेता अरुण जेटली ने मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस करके प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी के घोषणा पत्र में ऐसी बातें हैं जो देश को तोड़ने वाली हैं और देश की एकता के खिलाफ हैं। जेटली  ने कहा कांग्रेस का आज का नेतृत्व जिहादियों और माओवादियों के चंगुल में है। ‘वो घोषणा पत्र में कह रहे हैं कि आईपीसी से सेक्शन 124-A हटा दिया जाएगा, देशद्रोह अब अपराध नहीं है। उन्होंने कहा कि जो पार्टी ऐसी घोषणा करती है, वो एक भी वोट की हकदार नहीं है।