प्रेमी-प्रेमिका ने साथ जीने-मरने की खाई थी कसम, फिर उठाया ऐसा कदम कि लोग रह गए सन्न

श्रीमती विजय लक्ष्मी श्रीवास्तव

बांदा, । साथ जीने-मरने की कसम खा चुके प्रेमी युगल को शादी दूसरी जगह तय होना नागवार गुजरा। बरात आने के पहले प्रेमिका ने प्रेमी के घर गई और फिर दोनों ने जहरीला पदार्थ खाकर दुनिया छोड़ दी। एक ही बिस्तर पर प्रेमी युगल के शव पड़े देखकर लोग सन्न रह गए। पुलिस को घटनास्थल से सुसाइड नोट भी मिला है। युवती के पिता की तहरीर पर पुलिस मामले की जांच कर रही है।
पैलानी थाना क्षेत्र के ग्राम सबादा मजरा जगुवा डेरा निवासी 20 वर्षीय हंसराज निषाद का पिता बंगलुरू में रहकर प्राइवेट नौकरी करता है। हंसराज गांव में दादी के साथ घर में रहता था। उसका पड़ोस में रहने वाली सजातीय 18 वर्षीय युवती से तकरीबन एक वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों छिप छिप कर मिलते थे और साथ जीने-मरने की कसमें खाईं थीं। परिजनों ने युवती की शादी दूसरी जगह तय कर दी थी और 12 मई को बरात आनी थी। इसके बाद से प्रेमिका व प्रेमी काफी मायूस थे।
मंगलवार रात घर वालों की नजर बचाकर युवती प्रेमी के घर पहुंच गई। देर रात दोनों ने जान देने की ठान ली और जहरीला पदार्थ खा लिया। घर के बाहर सो रही दादी बुधवार सुबह जागीं तो दरवाजे अंदर से बंद मिले। आवाज देने पर दरवाजा नहीं खुला तो पड़ोसियों को बुला लिया। युवती को घर में न पाकर परिजन भी पहुंच गए। पड़ोसियों की सूचना पर आई पुलिस ने दरवाजा खुलवाया तो बाहर के कमरे में दोनों के शव एक ही बिस्तर पर पड़े मिले। थानाध्यक्ष श्रीप्रकाश यादव ने बताया कि प्रेमी-प्रेमिका के जान देने का मामला सामने आया है। युवती के पिता की तहरीर पर मामले की जांच की जा रही है।