ग्राम सेवा सहकारी समिति का व्यवस्थापक गिरफ्तार, 4000 रुपए की मांग रहा था रिश्वत

मनोहर कुमार पारीक 

सीकर. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने बुधवार को ग्राम सेवा सहकारी समिति के व्यवस्थापक को दो हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। यह कार्रवाई एसीबी सीकर के प्रभारी इंस्पेक्टर महेंद्र सिंह के नेतृत्व में की गई। एसीबी अधिकारियों के अनुसार गिरफ्तार आरोपी शंकरलाल सैनी है।

वह तन मुहाना में ढाणी मोतीसिंह, सीकर का रहने वाला है तथा ग्राम सेवा सहकारी समिति, महावा, जिला सीकर में व्यवस्थापक के पद पर है। उसके खिलाफ सीकर जिले के नीमकाथाना गांव बणियाला महावा निवासी कालूराम गुर्जर ने शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसमें बताया कि परिवादी को ऋण खाता संबंधी पास बुक देने तथा ऋण की राशि दिलवाने की एवज में चार हजार रुपए की रिश्वत मांगी गई।

इनमें दो हजार रुपए की रिश्वत आरोपी शंकरलाल सैनी ने एसीबी के सत्यापन के दौरान परिवादी कालूराम गुर्जर से ली। इसके बाद शेष रिश्वत की रकम दो हजार रुपए बुधवार को परिवादी से ली। रिश्वत की राशि लेकर शंकरलाल ने अपनी जेब में डाल दी। तभी ईशारा मिलने पर एसीबी टीम ने व्यवस्थापक शंकरलाल सैनी को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।