इनामी बदमाश श्यामलाल को पुलिस ने पकड़ा

गिरधारी वैष्णव 

जोधपुर. पांच हजार रुपए का इनामी हिस्ट्रीशीटर श्यामलाल विश्नोई मंगलवार देर रात पुलिस पर गोलियां बरसाता हुआ भाग निकला। जिले के लोहावट क्षेत्र में पुलिस ने उसे घेर लिया, लेकिन श्यामलाल पुलिस को गच्चा देने में सफल रहा। उसे पकड़ने के लिए पुलिस ने भी गोलियां दागी, लेकिन एक भी सटीक निशाने पर नहीं लगी और अंधेरे का लाभ उठा श्यामलाल भाग निकला। 24 घंटे के भीतर पुलिस ने उसे क्षेत्र की एक ढाणी से गिरफ्तार कर लिया। जोधपुर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक राहुल बारहट ने बताया कि राजस्थान पुलिस मुख्यालय जयपुर ने राज्य में सक्रिय बदमाशों की धरपकड़ के लिए टॉप 25 बदमाशों की लिस्ट बनाई। इस लिस्ट में शामिल बदमाश श्यामलाल की गिरफ्तारी के लिए पुलिस प्रयास कर रही थी। मंगलवार देर शाम लोहावट पुलिस को मुखबिर से श्यामलाल के गेटवे गाड़ी में सवार होकर भीकमकोर गांव से भीमसागर की ओर आने की सूचना मिली। जिस पर एक निजी व एक सरकारी वाहन में सवार होकर लोहावट थानाधिकारी सुनील ताडा की दो टीमें श्यामलाल के पीछे लगी। श्यामलाल ने पुलिस टीमों पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में थानाधिकारी ताडा ने भी अपनी 9 एमएम सर्विस पिस्टल से 11 राउंड फायर किए। इस बीच कच्चे रास्ते का फायदा उठाकर श्यामलाल मंगलवार रात में फरार हो गया। पुलिस ने इन्दों की ढाणी में धोरों में बनी मनोहरराम कांवा की ढाणी में दबिश दी। पुलिस को देखकर श्यामलाल ने फिर भागने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने पहले ही ढाणी को घेर लिया और उसे गिरफ्तार कर उसकी गेटवे गाड़ी भी जब्त कर ली।