आम आदमी पार्टी गठबंधन के लिए मजबूर क्यों? नवीन ने बताई बड़ी वजह

 

गुहला चीका: लोकसभा चुनाव के बिगुल बजने के बाद से राजनीतिक पार्टियां सत्तासीन भाजपा को अगले चुनाव में हराने के लिए हर तरह की कोशिश कर रही हैं। वहीं आम आदमी पार्टी सभी पार्टियों से गठबंधन करना चाहती है। यहां तक कि ‘आप’ ने जिस कांग्रेस की खिलाफत करके दिल्ली में अपनी सरकार बनाई, आज भाजपा को गिराने के लिए उसके साथ गठबंधन करने को आम आदमी पार्टी आमदा है। हालांकि, इस मुद्दे पर कांग्रेस की अपनी विचारधारा है कि व गठबंधन करे या न करे।

आम आदमी पार्टी गठबंधन क्यों करना चाहती है, क्या वह अकेले लोकसभा चुनाव नहीं लड़ सकती? इस सवाल का जवाब ‘आप हरियाणा’ के प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद ने खुद दिया है। यहां गुहला में कार्यकर्ता सम्मेलन के बाद पत्रकार वार्ता में नवीन ने बताया कि हमारे पास संसाधनों की कमी है, जिस कारण हम अकेले चुनाव नहीं लड़ सकते, इसलिए हमें गठबंधन करने की जरूरत है। यहां उन्होंने भाजपा पर जमकर निशाना साधा।

जयहिंद ने कहा कि बीजेपी झूठ की पार्टी है जो देश और प्रदेश में धर्म जाति और समाज को बांटने का काम कर रही है और लगातार जनता के बीच जुमले छोड़ रही है। इसके साथ ही नवीन ने बीजेपी को राक्षस प्रवृत्ति की पार्टी बताया। नवीन जयहिंद ने कहा की चौकीदार की मौजूदगी में ही आज चोरी डकैती भ्रष्टाचार और बलात्कार जैसी घटनाएं बढ़ रही हैं। देश में और प्रदेश में व्यापारी किसान और जवान कोई भी सुरक्षित नहीं है बीजेपी ने तो देश की सेना के नाम पर राजनीति कर रही है।

नवीन ने कहा कि अगर देश को बीजेपी से बचाना है तो सभी पार्टियों को एक होकर बीजेपी के खिलाफ लडऩा होगा, जिस कारण हम कांग्रेस से गठबंधन कर सकते है। उन्होंने कहा कि अगर हमारा गठबंधन होता है तो हम हरियाणा में लोकसभा की 10 सीटें जीतेंगे। इसके साथ ही नवीन ने कहा कि हमारी लोकसभा की सीटों के बंटवारे को लेकर कोई शर्त नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि अगर गठबंधन नहीं होता है तो 10 की 10 लोकसभा सीटें बीजेपी जीत सकती है।