चुनाव न लड़ने की घोषणा के बाद ताई ने मनाया नव वर्ष, राजवाड़ा पर सूर्य को दिया सामूहिक अर्घ्य

इंदौर: हिंदू धर्म में चैत्र नवरात्र के साथ ही नववर्ष का भी आगाज माना जाता है। इसे चैत्र मास की शुक्ल प्रतिपदा गुड़ी पड़वा या वर्ष प्रतिपदा या युगादि भी कहा जाता है। चैत्र मास की शुक्ल प्रतिपदा से ही हिंदू नव वर्ष का प्रारंभ होता है। हर साल की तरह इस बार भी राजवाड़ा पर सुबह 6 बजे उगते सूर्य को अर्घ्य देकर नव वर्ष के शुभारंभ किया गया।

इस कार्यक्रम में लोकसभा चुनाव लड़ने से इंकार करने के बाद सुमित्रा महाजन ने भी शिरकत की। ताई के साथ कई महिलाओं ने एक साथ उगते सूर्य को अर्घ्य दिया। इस दौरान महापौर मालिनी गौड़ के अलावा हाउसिंग बोर्ड के अध्यक्ष कृष्ण मुरारी मोघे भी मौजूद रहे। शहर के अलग-अलग हिस्सों में हिंदू नववर्ष गुड़ी पड़वा का स्वागत किया गया। बड़ा गणपति चौराहे पर संस्था सार्थक ने नए साल का स्वागत किया। यहां भी सूर्य को सामूहिक अर्घ्य दिया गया।