पहले से हादसे में क्षतिग्रस्त ट्रक चला रहे ट्रैफिक हवलदार ने कांग्रेस नेता के चचेरे भाई को कुचला, मौत; भीड़ ने ट्रक को जलाया

शिरीष सिलकारी 

आरटीओ ऑफिस से लौट रहे एक एजेंट की पहले से दुर्घटनाग्रस्त ट्रक से कुचलने से मौत हो गई। मृतक का नाम नीलेश पुरोहित (46) निवासी नरयावली नाका वार्ड है। नीलेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मुकुल पुरोहित के चचेरे भाई थे। पुलिस के अनुसार ये एक्सीडेंट शाम करीब 5.15 बजे आरटीओ रोड पर कबीर आश्रम के पास हुआ।

जानकारी के अनुसार ये ट्रक ट्रैफिक पुलिस का हवलदार आनंद जैन निवासी बाहुवली कॉलोनी सागर चला रहा था। पुलिस ने आनंद को मौके से ही हिरासत में ले लिया है। आरटीओ की साइट के अनुसार ये ट्रक हवलदार के बेटे अमित जैन के नाम पर है। नीलेश बाइक से शहर की तरफ जा रहे थे, तभी इस ट्रक क्रमांक एमपी 22 एच- 1671 ने उन्हें पीछे से टक्कर मार दी। वह बाइक सहित ट्रक के अगले पहिए के पीछे की तरफ फंसे रह गए, उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो चुकी थी। इधर जैसे ही आरटीओ परिसर में इस एक्सीडेंट की खबर पहुंची तो नीलेश के सहकर्मी मौके पर पहुंच गए। इसके बाद वहां मौजूद भीड़ ने ट्रक का डीजल निकालकर उसे आग के हवाले कर दिया।

गनीमत रही कि एफएसटी टीम को चपेट में नहीं लिया

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार हवलदार आनंद पथरिया जाट की तरफ से ये एक्सीडेंटल ट्रक लेकर आ रहा था। दो-एक जगह पर उससे एक्सीडेंट होते-होते भी बचे। गनीमत रही कि जब वह आरटीओ के बाहर मेनपानी-राजघाट तिराहा के पास से निकला तो आदर्श चुनाव आचार संहिता के चलते चेकिंग कर रही पुलिस-प्रशासन की एफएसटी टीम रोड पर नहीं थी। वरना वे भी इस ट्रक की चपेट में आ सकते थे। हालांकि हवलदार आनंद ने वहां स्पीड कंट्रोल के लिए रखे गए ड्रमों को तो उड़ा ही दिया था।