फतेहपुर में मौत की सुरंग, ये घटना सामने आई तो लोग रह गए सन्न

श्रीमती विजय लक्ष्मी श्रीवास्तव

फतेहपुर, शहर के शांतिनगर मोहल्ले में रविवार को उस समय सनसनी फैल गई, जब युवक की बनाई सुरंग उसके लिए ही मौत की सुरंग बन गई। मकान के अंदर घुसने के बनाई सुरंग के अंदर गर्दन फंसने से युवक की मौत हो गई। लोगों को घटना की जानकारी हुई तो सभी हैरान रह गए और चर्चा रही कि युवक चोरी के इरादे से सुरंग बनाकर मकान में घुसने का प्रयास कर रहा था। फतेहपुर के पत्थरकटा मोहल्ले निवासी ज्ञान सिंह शांतीनगर मोहल्ले में भवन निर्माण करा रहे हैं। चहारदीवारी और कमरों का निर्माण पूरा हो चुका है। बीते कई दिनों से भवन निर्माण बंद है। रविवार की सुबह जब ज्ञान सिंह मकान में आए तो दीवार के नीचे किसी को फंसा देखा। इसपर उन्होंने पुलिस को सूचना दी। इस बीच मौके पर आसपास के लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। पुलिस ने सुरंग में फंसे युवक को किसी तरह बाहर निकाला तो वह मृत मिला। उसकी पहचान 25 वर्षीय विजय प्रताप पाल पुत्र स्व. हरिश्चंद्र निवासी फतेहपुर के रूप में हुई।

घटना के बाद पुलिस ने आशंका जताई मकान बंद था, कमरे में रखे सामान चोरी की नीयत से युवक दीवार फांदकर घर के अंदर घुसा होगा। कमरे के अंदर पहुंचने के लिए उसने नींव के नीचे मिट्टी हटाकर सुरंग तैयार की। अंदर घुसते समय गर्दन सुरंग में फंस गई और दम घुटने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

छह दिन से लापता था युवक

कोतवाली प्रभारी सतेंद्र सिंह ने बताया कि कोतवाली पहुंचे सत्यप्रकाश पाल ने शव की शिनाख्त विजय प्रताप के रूप में की। उसने जानकारी दी कि छोटा भाई विजय स्मैक का लती था। सात पहले चोरी के आरोप में वह जेल भी जा चुका है। वह शटरिंग में जाल बांधने का काम करता था, बीते छह दिनों से लापता था।