BJP का संकल्प पत्र जारी, शाह बोले-मोदी सरकार में दुनिया ने माना भारत का लोहा

नई दिल्ली: भाजपा ने सोमवार को अपना संकल्प पत्र- ‘संकल्पित भारत सशक्त भारत’ जारी किया। भाजपा के संकल्प पत्र में किसान, व्यापारी, राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ ही राम मंदिर का भी जिक्र है। भाजपा ने अपने पत्र में 75 संकल्प रखे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भाजपा का संकल्प पत्र जारी किया।

संकल्प पत्र की खास बातें

  • किसान क्रेडिट कार्ड पर 1 लाख के लोन पर ब्याज नहीं।
  • देश के किसानों को 6 हजार रुपए सलाना दिए जाएंगे।
  • छोटे दुकानदारों को 60 साल के बाद पेंशन की सुविधा दी जाएगी
  • कारोबारियों के लिए राष्ट्रीय व्यापार आयोग का गठन किया जाएगा।
  • 25 लाख करोड़ रुपए ग्रामीण क्षेत्रों में खर्च किए जाएंगे।
  • 6 करोड़ लोगों की भागीदारी से बना संकल्प पत्र। सभी क्षेत्रों और समुदायों से चर्चा के बाद संकल्प पत्र को तैयार किया गया।
  • मोदी के प्रति जनता का विश्वास बढ़ा है।
  • भाजपा का संकल्प पत्र राम मंदिर निर्माण के लिए हर संभव कोशिश करेंगे

भाजपा का संकल्प पत्र- ‘संकल्पित भारत सशक्त भारत’ जारी करने से पहले पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने सरकार की उपल्ब्धियां गिनाते हुए कहा कि 2014 में भाजपा को ऐतिहासिक जनादेश मिला और अस्थिरता का माहौल खत्म हुआ। भाजपा ने निर्णायक सरकार दी। सरकार ने घर-घर टॉयलेट बनवाए, बिजली पहुंचाई गई। इकोनॉमी को पटरी पर लाया गया।शाह ने कहा कि मोदी सरकार के कार्य़काल में पूरी दुनिया ने भारत का लोहा माना। पांच साल में भारत की छठें नंबर का अर्थव्यवस्था बनी। उन्होंने कहा कि सरकार की किसानों को सक्षत करने की अपेक्षा है। जम्मू-कश्मीर का स्थायी समाधान करने की अपेक्षा है। वहीं इस दौरान केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी मौजूद नहीं रहे। गडकरी ने ट्वीट किया कि महाराष्ट्र में पहले चरण में ही मतदान हो रहे हैं और प्रचार के आखिरी दो दिन रहने के कारण वे उपस्थित नहीं होंगे।

उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनावों के लिए गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में पार्टी ने संकल्प पत्र (घोषणा पत्र) समिति बनाई थी। इसके तहत देशभर में करीब 7500 सुझाव पेटियों, 300 रथों एवं इलेक्ट्रानिक माध्यमों से सुझाव प्राप्त किए गए।