चैन स्नेचिंग करने वाली अंतराज्यीय बावरिया गैंग का पर्दाफाश, दो नाबालिग सहित छह जनों को पकड़ा

मीनाक्षी पारीक 

जयपुर. राजधानी में चैन स्नेचिंग करने वाली अंतराज्यीय बावरिया गैंग का पर्दाफाश करते हुए वेस्ट जिले की पुलिस ने एक शातिर लुटेरे समेत चार जनों को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, गैंग में शामिल दो नाबालिगों को निरुद्ध भी किया है। यह कार्रवाई  मुरलीपुरा व झोटवाड़ा थाना पुलिस की संयुक्त टीम ने की। इसके लिए पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पहले चेन स्नेचिंग में प्रयुक्त बाइक का नंबर खंगाला। इसके आधार पर शातिर लुटेरे व उसके साथियों को धरदबोचा। डीसीपी पश्चिम विकास शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी विनोद बावरिया (22) निवासी गांव रूंध का पुरा, बाड़ी सदर जिला धौलपुर है। यह शातिर लुटेरा है। इसकी गैंग में शामिल दो नाबालिग भी निरुद्ध किए है। इनसे दो मोटरसाईकिल जप्त की गई है। आरोपी विनोद जयपुर के विभिन्न थानों में दर्ज 23 मुकदमों में चालान पेश हो चुका है, जबकि वह झोटवाड़ा व विद्याधर नगर के एक एक मुकदमे में वांटेड है। इसके अलावा विनोद बावरिया व उसकी गैंग से लूट का माल खरीदने वाले आरोपी सम्मन लाल सोनी निवासी गांव सरूड जिला जयपुर व आरोपी विनोद कुमार बंसल निवासी पुराना बाजार बाड़ी, जिला धौलपुर है। चैन स्नेचिंग की वारदातों में मोटरसाईकिल उपलब्ध कराने वाले विनोद के सहयोगी आरोपी सर्वदमन उर्फ योगेन्द्र उर्फ दमन ठाकुर को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वह गांव खरकड़ा, थाना बानसूर जिला अलवर का है।एडिशनल डीसीपी बजरंग सिंह ने बताया कि इस गैंग ने जयपुर शहर के मुरलीपुरा, झोटवाड़ा, हरमाड़ा, विधाधर नगर, इत्यादी स्थानों से करीबन 24 चैन स्नेचिंग की वारदातें की है। इनसे गहनता से पूछताछ की जा रही है। यह कार्रवाई एसीपी झोटवाड़ा गोपाल सिंह भाटी, झोटवाड़ा थानाप्रभारी विक्रम सिंह व मुरलीपुरा थानाप्रभारी कैलाश जिंदल के नेतृत्व में की गई। जिसमें पश्चिम जिले की सायबर सेल के कांस्टेबल मुकेश कुमार ने अहम रोल निभाया। मुल्जिम विनोद बावरिया के पास पावर बाईक प्लसर लाल काले रंग की है जो वारदातो मे काम में लेता है। जिस पर पुलिस टीम ने निगरानी रखकर सीसीटीवी फुटेज खंगाले। इसके आधार पर आरोपी की पहचान कर धरदबोचा। यह गैंग
पावर बाइक पर सवार होकर दिन-रात में राह चलती महिलाओं के गले पर झपट्‌टा मारकर चेन स्नेचिंग की वारदातें करते है।