रातापानी सेंचुरी में बाघ का मिला शव, अवशेष काटकर साथ ले गए शिकारी

भोपाल: राजधानी से सटे रातापानी वन्यजीव अभयारण्य में एक बाघ का शव मिला है। जिसके चारों पंजे कटे मिले हैं। घटना की जानकारी मिलने के बाद वन विभाग की टीम मामले की जांच-पड़ताल कर रही है। घटना मंगलवार दोपहर दो बजे सामने आई है। बाघ का शव बिनेका रेंज में मिला है।

बाघ का शव मिलने के बाद वन विभाग के अफसरों ने बिनेका रेंज में घेराबंदी की है। डॉग स्क्वाड और स्टेट टाइगर स्ट्राइक फोर्स के अधिकारियों ने घटना स्थल को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। आसपास के गांवों में 12 से अधिक संदिग्धों से पूछताछ की गई है। कुछ लोगों को पूछताछ करने के लिए हिरासत में लेने की भी जानकारी है। बुधवार को शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा।

गौरतलब है कि बाघों की मौत के बाद उनके अवशेष काटकर ले जाने जैसी वारदाते पहले भी घटित हो चुकी है। करीब चार महीने पहले भी रातापानी के बिनेका रेंज में मृत मिले बाघ के सामने के दो पंजे कटे मिले थे। हाल ही में सिवनी जिले में भी ऐसी ही घटना सामने आई थी। प्रदेश के टाइगर रिजर्व व सामान्य जंगल में ऐसी घटनाएं सामने आना चिंता का विषय है। डॉ. एसपी तिवारी, सीसीएफ भोपाल वन वृत्त ने कहा कि प्रदेश में लगातार हो रहे बाघ के शिकार पर रोकथाम के लिए रेंजर से लेकर संबंधित पर कार्रवाई की जाएगी तथा मामले की तह तक जांच होगी।