8 दिन से जल संकट, गुस्साए लोगों ने घेरा नप कार्यालय, जमकर की नारेबाजी

मेहगांव

आरती शर्मा 

मेहगांव के वार्ड आठ और दस में जल संकट गहराने के बाद सोमवार को रहवासियों का आक्रोश बढ़ गया। पिछले आठ दिन से पानी की समस्या से जूझ रहे वार्ड वासियों ने नगर परिषद कार्यालय का घेराव कर लिया।

इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने प्रशासन के खिलाफ जमकर हंगामा करते हुए नारेबाजी की। लेकिन नप के अधिकारी एसडीएम की मीटिंग में व्यस्त होने के कारण आक्रोशित लोग क्लर्क को ज्ञापन देकर वापस लौट आए। इससे पहले लोग नप अध्यक्ष ममता भदौरिया के निवास पर पहुंचे थे। मगर अध्यक्ष श्रीमती भदौरिया की अनुपस्थिति में अध्यक्ष पति ने समस्या हल करने का आश्वासन दिया। इसके बावजूद पानी की किल्लत से लोगों को निजात नहीं दिलाई गई है।

वार्ड में नहीं पहुंचता पानी

वार्ड आठ के रहवासी संदीप शर्मा ने बताया हनुमान रोड के पास करीब 200 घराें की बस्ती है। यहां प्रशासन की नल-जल योजना की लाइन होने के बाद भी पानी नहीं पहुंचता है। क्योंकि ऊंचाई अधिक होने के कारण लाइन का पानी यहां तक नहीं पहुंच पाता है। इस समस्या से छुटकारा दिलाने के लिए वार्ड सात और आठ के रहवासी पिछले एक साल से नप अध्यक्ष से मांग कर रहे हैं कि वाटर वर्कस हॉस्पीटल के पास ज्वॉइंट पर एक बाल लगा दिया जाए तो यह समस्या हल हो सकती है। बाल लगने के बाद प्लंबर द्वारा एक-एक करके लाइनाें को खोला जाएगा। जिससे लाइन में प्रेशर के साथ पानी ऊपर के इलाकों में पहुंच जाएगा। मगर प्रशासन के अधिकारी इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

टैंकरों से बुझा रहे प्यास

दोनों ही वार्डों में इन दिनों पानी का भीषण संकट पैदा हो गया है। लोग प्यास बुझाने के लिए दूसरे मोहल्ले के हैंडपंपों से पानी ढो रहे हैं। जबकि वाटर लेवल कम होने के कारण हैंडपंप भी जवाब दे गए हैं। मजबूरी में लोगों को टैंकर मंगवाकर पानी का जुगाड़ करना पड़ रहा है। मोहल्ले के आनंद राठौर ने बताया रोजाना सुबह पानी के लिए परेशानी उठानी पड़ती है। कई बार जब नप से टैंकर नहीं आते हैं घर के सभी सदस्य पानी के लिए घंटों तक समय बर्बाद करते हैं। वार्ड के रिंकू सैनी, आनंद राठौर, शशिकांत त्यागी, सचिन राजपूत, शैलेंद्र जैन, सूरज गौड, संदीप शर्मा, राहुल सिंह, संतोष शर्मा, अनुराग व्यास सहित आदि लोगों ने प्रदर्शन किया है।