घरेलू कलह में महिला ने फांसी लगाकर खुदकशी की

प्रदीप कुमार 

फर्रुखाबाद : पारिवारिक कलह के चलते बुधवार सुबह महिला ने मकान में ही फांसी लगाकर जान दे दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच की। मृतका की मां ने दामाद व अन्य ससुरालीजनों पर पुत्री को परेशान करने का आरोप लगाया।शहर कोतवाली के गांव चांदपुर निवासी दीपक सक्सेना की 28 वर्षीय पत्नी प्रीती सक्सेना ने सुबह मकान के कमरे में धोती का फंदा गले में कसा और छत के कुंडे से लटक गई। कुछ देर बाद बच्चों के देखने पर आसपास के लोग एकत्र हो गए। कुछ देर बाद पांचालघाट चौकी पुलिस भी आ गई। घटना के समय दीपक ईंट भट्ठे पर काम करने गया था। ग्रामीणों की सूचना पर दीपक घर पहुंचा तो पत्नी का शव रखा मिला। दीपक ने बताया कि वह राजीव के भट्ठे पर मुनीम है। सुबह पत्नी से मामूली कहासुनी हो गई थी। इसके बाद वह काम पर चला गया। पिता रामनरेश सक्सेना बाहर गए है। उसकी मां व भाई की मौत हो चुकी है। घर में पत्नी के अलावा आठ वर्षीय पुत्र शिवा, चार वर्षीय अमर व नौ माह का देव ही घर पर थे। प्रीती की मां फतेहगढ़ के कचहरी तिराहा निवासी मां मुन्नी सक्सेना अन्य परिजनों के साथ अस्पताल पहुंची और शव देखते ही बिलख पड़ी। उन्होंने आरोप लगाया कि दीपक आये दिन कलह करते थे। जिससे उनकी पुत्री परेशान थी। उन्होंने पुत्री के ससुर पर भी आरोप लगाए। प्रीती दो माह पहले ही ससुराल गई थी। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। प्रीती का भाई राजा दिल्ली में है। पिता की मौत हो चुकी है।