IPL 2019: अंपायर की ‘नो बॉल’ पर धोनी ने खोया आपा, लगा भारी-भरकम जुर्माना

जयपुर के मैदान पर चेन्नई की टीम ने भले ही राजस्थान को आखिरी ओवर में हरा दिया। लेकिन मैच दौरान धोनी का मैदानी अंपायरों पर आपा खोना चर्चा का विषय बन गया। दरअसल चेन्नई की टीम को आखिरी ओवर में 16 रन चाहिए थे। 20वें ओवर की चौथी गेंद पर सैंटनर ने एक ऊंची उठती बॉल को हिट कर दो रन ले लिए। यहां खास बात यह रही कि मैदानी अंपायर ने पहले बॉल की हाइट देखकर नो बॉल का इशारा किया। लेकिन बाद में इसे कैंसिल कर दिया।

jasmeet@jasmeet047

Huge Error of Field Umpire https://www.iplt20.com/video/167876  via @ipl

See jasmeet’s other Tweets

मैदानी अंपायर का फैसला देख धोनी से रहा न गया। वह मैदान में पहुंच गए। दर्शकों ने उन्हें अर्से बाद अंपायरों पर आपा खोते हुए देखा। उन्होंने मैदानी अंपायर को ईशारा किया अगर आप पहले नो बॉल का सिग्रल दे रहे थे तो इसे कैंसिल क्यों कर रहे हैं। आखिर खूब गहमागहमी के बाद फैसला हुआ कि गेंद नो बॉल नहीं है। हालांकि चेन्नई की किस्मत अच्छी थी। उन्होंने आखिरी गेंद पर छक्का मारकर मैच जीत लिया।

धोनी पर लगा 50 प्रतिशत जुर्माना
इस मुकाबले में अंपयरों से बीच मैदान बहस करने के चलते धोनी को कड़ी सजा मिली। अंपायर के निर्णय का विरोध करने के चलते धोनी को उनकी मैच का फीस का 50 प्रतिशत हिस्सा जुर्माने के तौर पर देना होगा। धोनी के इस रवैये को इंडियन टी-20 लीग के कोड ऑफ कंडक्ट के खिलाफ माना गया है। उन्होंने लेवल 2 के अपराध 2.20 का उल्लंघन किया है, जिसके चलते उन पर जुर्माना लगाया गया है। धोनी ने अपना अपराध कबूल भी कर लिया है।


बेंगलुरु के कप्तान कोहली ऐसे मौके पर चूक गए थे 

गौर हो कि बीते दिनों बेंगलुरु और मुंबई के बीच भी ऐसा ही करीबी मैच हुआ था। मुंबई ने यह मुकाबला आखिरी ओवर की आखिरी गेंद पर जीता था। टीवी रिप्ले में देखा गया कि मुंबई के गेंदबाज लासिथ मलिंगा की आखिरी गेंद नो बॉल थी। यह देखकर बेंगलुरु के कप्तान इस पर खूब बरसे थे। उन्होंने अंपायर को आंखें तक खोलकर अंपायरिंग करने की नसीहत दे दी थी।