मिशन 2019: चांदनी चौक से सिब्बल और नई दिल्ली से माकन उम्मीदवार, ईस्ट से शीला के नाम पर चर्चा

नई दिल्ली: कांग्रेस की केंद्रीय निर्वाचन समिति (सीईसी) ने गुरुवार शाम को दिल्ली में लोकसभा चुनाव के लिए संभावित उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा की। सूत्रों के मुताबिक दिल्ली में चार सीटों पर उम्मीदवारों के नामों पर विचार हुआ है और बाकि तीन सीटों पर अभी पेच फंसा हुआ है। दिल्ली में संभावित उम्मीदवारों के नामों पर विचार के लिए सीईसी की बैठक से पहले प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष शीला दीक्षित के आवास पर पार्टी नेताओं की बैठक भी हुई। आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन की संभावना लगभग खत्म होने की स्थिति में कांग्रेस दिल्ली में जल्द ही अपने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा करेगी।

जिन चार सीटों पर उम्मीदवारों के नाम की घोषणा हुई वो हैं-नई दिल्ली से पूर्व सांसद अजय माकन, चांदनी चौक से कपिल सिब्बल, नॉर्थ ईस्ट से जय प्रकाश अग्रवाल और नॉर्थ वेस्ट की सीट पर दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री राजकुमार चौहान के नाम पर मुहर लगी है। वहीं शीला दीक्षित ने जयप्रकाश अग्रवाल के नाम का विरोध किया लेकिन लंबी चर्चा के बाद समिति ने उनके नाम को हरी झंडी दी। दरअसल शीला दीक्षित ने पिछले दिनों पार्टी को इन चार सीटों से अपने पंसदीदा उम्मीदवारों के नाम भेजे थे लेकिन उनमें से किसी को भी पार्टी ने बतौर उम्मीदवार सही नहीं माना। पार्टी ऐसे उम्मीदवारों के चेहरे आगे लाना चाहती थी जिन्हें जीत हासिल हो सके।

ईस्ट दिल्ली से लड़ सकती है शीला दीक्षित
अन्य तीन सीटों पर अभी उम्मीदवारों के नाम फाइनल नहीं हुए हैं लेकिन कयास लगाए जा रहे हैं कि शीला दीक्षित ईस्ट दिल्ली से चुनाव लड़ सकती हैं। दरअसल ईस्ट दिल्ली से संदीप दीक्षित ने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है ऐसे में शीला यहां से उम्मीदवार हो सकती हैं। हालांकि यहां से अरविंदर सिंह लवली और ए के वालिया प्रबल दावेदार हैं। तो वहीं शीला ने खुद इस सीट के लिए पवन खेड़ा का नाम भेजा है, पर अंतिम फैसला पार्टी हाईकमान ही करेगी। साउथ दिल्ली से पूर्व सांसद रमेश कुमार के नाम की चर्चा है। सातवीं सीट वेस्ट दिल्ली से दो उम्मीदवारों के नाम सामने आए हैं-महाबल मिश्रा और वर्किंग प्रेजिडेंट देवेंद्र यादव का।