हलफनामे में स्मृति ईरानी ने बताई अपनी एजुकेशन, ग्रेजुएट नहीं केंद्रीय मंत्री

अमेठी से भाजपा की लोकसभा उम्मीदवार और केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने अपने चुनावी हलफनामे में लिखा कि उन्होंने अपनी ग्रेजुएट पूरी नहीं की है। हलफनामे के अनुसार ईरानी ने 1991 में हाईस्कूल की परीक्षा पास की, 1993 में इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की तथा दिल्ली विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग से 1994 में तीन वर्षीय स्नातक पाठ्यक्रम में प्रवेश लिया लेकिन उन्होंने यह पाठ्यक्रम पूरा नहीं किया। 2014 के चुनावों के लिए दिए अपने हलफनामे में स्मृति ने कथित तौर पर कहा था कि उन्होंने 1994 में यूनिवर्स‍िटी से ग्रेजुएशन किया था। तब उनकी एजुकेश को लेकर काफी विपक्ष ने काफी बवाल किया था और केंद्रीय मंत्री के दावे की सत्यता पर सवाल उठाए थे। वहीं अब 2019 में स्मृति के ग्रेजुएट न होने की बात पर एक बार फिर से विपक्ष हमलावर हो गया है। कांग्रेस स्मृति की पढ़ाई पर तंज कसते हुए कहा कि केंद्रीय मंत्री कभी ग्रेजुएट थी।

4.71 करोड़ रुपए की संपत्ति
स्‍मृति ने 4.71 करोड़ रुपए की संपत्ति घोषित की है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ने वाली ईरानी के हलफनामे के अनुसार स्‍मृति के पास 1.75 करोड़ की चल संपत्ति और 2.96 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति है। इसमें 1.45 करोड़ रुपए मूल्य की कृषि योग्य भूमि और 1.50 करोड़ की आवासीय इमारत शामिल है।

हलफनामे के अनुसार 31 मार्च तक स्‍मृति के पास 6 लाख 24 हजार रुपए नकद और बैंक खाते में 89 लाख से ज्यादा की रकम जमा है। उनके पास राष्ट्रीय बचत योजना और डाक विभाग की योजना में 18 लाख रुपयों से ज्यादा की रकम जमा है जबकि 1.05 लाख रुपए के अन्य निवेश हैं। स्मृति के पास 13.14 लाख रुपए मूल्य की गाड़ियां और 21 लाख रुपए मूल्य के गहने भी हैं। उनके खिलाफ कोई एफआईआर लंबित नहीं है और न ही उनपर कोई कर्ज है। उनके पति जुबिन ईरानी के पास 1. 69 करोड़ रुपए की चल और 2.97 करोड़ की अचल संपत्ति है।