MP पुलिस ने बहादुरी को किया सलाम, इंदौर की बेटी को सम्मान के साथ दिया इनाम

इंदौर: ‘सामने पहाड़ हो या सिंह की दहाड़ हो’ हौंसला और हिम्मत मजबूत हो तो किसी भी विपरीत हालात में आप शिकस्त नहीं खा सकते। अपने बुलंद हौसले व इरादों से लड़कियों ने हर क्षेत्र में नाम कमाया है।  कुछ ऐसा ही जलवा इंदौर की बेटी ने कर दिखाया जिसकी बहादुरी के चर्चे हर जगह हो रहे हैं और इसी बहादुरी को शुक्रवार को पुलिस ने भी सलाम किया है।|

जानकारी के अनुसार, तिलक नगर इलाके में रहने वाली एक गरीब परिवार की बेटी के साथ बदमाशों ने मोबाईल लूट की वारदात को अंजाम देने की मंशा से हमला बोला, लेकिन उस बेटी ने हिम्मत नही हारी और बाइक सवार दो बदमाशों में से एक को पुलिस तक पहुंचा दिया। इसके बाद इंदौर पुलिस की एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र उस बेटी की प्रतिभा से इतनी प्रभावित हुई कि उसे 5 हजार की नकद राशि और प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया।

घटना कुछ दिनों पहले की है जब संजना बौरासी अपनी मां की तबीयत खराब होने के कारण घर से काम पर जाती थी। एक दिन शाम को अचानक बाइक सवार 2 बदमाश उसके पीछे आए और उसे धक्का देकर गिरा दिया। बदमाशो ने उसका फोन उठा कर भागने की कोशिश की लेकिन अगले ही पल हिम्मत जुटाते हुए संजना उठी और उसने पत्थरों से बदमाशों पर हमला कर दिया। जिसके बाद एक बदमाश बाइक से गिर गया और संजना ने उसके पास जाकर सबसे पहले उसे थप्पड़ पर थप्पड़ जड़े फिर मोबाइल छुड़ा लिया। इसी बीच निगम की गाड़ी से कुछ कर्मचारी उतरे और आस पास लोग इकट्ठा हुए और उन्होंने बदमाश को पुलिस के हवाले कर दिया। इसके बाद पुलिस ने अलग – अलग धाराओ में मामला दर्ज कर बदमाश को जेल पहुंचा दिया।

संजना की इस बहादुरी के कारण उसे इंदौर पुलिस ने सम्मानित किया व 5 हजार का ईनाम भी दिया। जिसके बाद संजना और उसका परिवार बहुत खुश है। उसके बहादूरी के किस्से चारों तरफ हो रहे हैं तथा वह लोगों को बहादुरी का पाठ पढ़ा रही है।