मनी एक्सचेंज कारोबारी के पास मिली रुपये भरे चार बोरी, सात बैग

श्रीमती विजय लक्ष्मी श्रीवास्तव

कानपुर : कटे-फटे नोट बदलने के नाम पर शहर में हवाला कारोबार की सूचना पर पुलिस ने गुरुवार शाम करीब सात बजे नयागंज के कारोबारी सुधाकर जायसवाल के घर में बने ऑफिस में छापा मारकर रुपयों से भरी दो बोरी और तीन बैग बरामद किए। कारोबारी ने पहले करीब एक करोड़ रुपये की रकम होने की जानकारी दी थी और बताया कि आसपास के कारोबारियों ने बदलने के लिए दिए हैं लेकिन जब जांच की गई तो साबुत नोट ही 85 लाख के निकले। इसके बाद पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की और सुधाकर की निशानदेही पर पड़ोस के दो ट्रेडर्स के ऑफिस में छापा मारकर वहां मौजूद तीन नौकरों के पास से भी पांच बैग बरामद किए। इन नोटों की गिनती रात डेढ़ बजे के बाद शुरू होने की उम्मीद है। माना जा रहा है कुल रकम डेढ़ से दो करोड़ रुपये के बीच हो सकती है। कारोबारी इस रकम का हिसाब-किताब नहीं दिखा सका है। पुलिस की सूचना पर पहुंचे आयकर अधिकारी भी देर रात तक जांच करते रहे। पुलिस के अनुसार मामला बड़े हवाला कारोबार से जुड़ा है।

एसपी पश्चिम संजीव सुमन ने बताया कि मुखबिर से हवाला कारोबार होने की सूचना पर नयागंज स्थित रामगंज बाजार निवासी सुधाकर जायसवाल के घर पर बने ऑफिस में छापा मारा तो रुपये से भरी चार बोरी और दो बैग मिले। इससे पहले कि टीम पूछताछ करती, कई व्यापारी जुट गए। स्टेटिक टीम के साथ पुलिस, कारोबारी व बोरी में भरे नोटों को लेकर थाने आ गई। एसपी पश्चिम के दफ्तर में लाकर आयकर विभाग को सूचना दी गई। आयकर टीम के आने के बाद बोरी में भरे नोटों की गिनती शुरू कराई गई। पहली बोरी में करीब 20 लाख रुपये निकले। साढ़े 12 बजे गिनती पूरी हुई तो रकम करीब 85 लाख रुपये निकली। इसी बीच पूछताछ में कारोबारी ने पड़ोसी दो ट्रेडर्स के नाम बताए। पुलिस ने छापा मारकर दोनों के तीन नौकरों सैफ, सैयद व प्रदीप को उठाया तो नोटों से भरे पांच बैग और मिले।

देर रात डेढ़ बजे उन नोटों की गिनती शुरू हुई। आयकर अधिकारियों के मुताबिक अभी पूरे नोट गिने नहीं गए है। कारोबारी के संबंध में और लिंक तलाशे जा रहे हैं।

एसपी संजीव सुमन ने बताया कि कारोबारी से बरामद नकदी हवाला की बताई जा रही है। इसकी जांच चल रही है। कुछ नोट कटे-फटे, पुराने व नकली भी हैं। बैंककर्मियों को बुलाकर इनकी पड़ताल कराई जाएगी। आयकर टीम की रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।