कांग्रेस संपत्ति हड़पने वाले धंधेबाजों को दे रही टिकट : भाजपा

भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पर संपत्तियों को गलत तरीके से हड़पने वाले लोगों को टिकट देने का आरोप लगाया। भाजपा ने कहा कि विपक्ष के रूप में यह पार्टी बुरी तरह विफल रही है और इस बार वह पिछली बार से अधिक बुरी तरह हारने जा रही है।

कांग्रेस रही विफल
पार्टी प्रवक्ता जी वी एल नरसिंह राव ने पत्रकारों से कहा कि कांग्रेस पार्टी नैतिकता और ईमानदारी की बात करती है जबकि उसने फरीदाबाद से ललित नागर जैसे व्यक्ति को चुनाव में टिकट दिया है जो राहुल गांधी परिवार का अत्यंत निकट व्यक्ति महेश नागर का भाई है। महेश नागर राबर्ट वाड्रा प्रियंका और सोनिया गांधी का बहुत करीबी है और गांधी परिवार के लिए संपत्ति खरीदने हड़पने का काम करता है। राव ने कहा कि कांग्रेस विपक्ष के रूप में बुरी तरह विफल हो गयी है और जनता की नकारों में उसकी विश्वसनीयता लगातार घटती जा रही है जिससे उसमें जबरदस्त हताशा दीख रही है।

अमेठी से भाग रहे हैं राहुल गांधी 
भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस का गठबंधन भी ऐसे धंधेबाजो का गठबंधन है और जनता इस बात को जान गयी है। खुद राहुल गांधी अमेठी से भागकर केरल में चुनाव लडऩे चले गये हैं क्योंकि वह जानते हैं कि अमेठी में वे चुनाव हारने जा रहे हैं। उनकी हताशा और उनकी भाषा में गिरावट इस बात को बताती है। भारतीय जनता उन्हें इस बात की सजा देगी और उन्हें 2014 से भी अधिक बुरी तरह पराजित करेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि राहुल गाधी और वाड्रा मिलकर संपत्तियों को हड़पने का धंधा करते हैं।

आयकर छापों पर जवाब दे कांग्रेस 
राव ने कहा कि नेशनल हेराल्ड मामले में दोनों जमानत पर पहले से हैं। उन्होंने अतीत से कोई सीख नहीं ली है और वे ललित नागर जैसे बिचौलिए को टिकट दे रहे हैं जो संपत्तियों को हड़पने का काम करता है। आखिर राहुल गांधी पर क्या दबाव है कि उन्होंने ललित नागर को टिकट दिया। इसके पीछे क्या मकसद है ?क्या ललित नागर को चुप रहने का यह तोहफा दिया गया है? राहुल गांधी इसका जवाब दें। भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस के लोगों पर आयकर के छापे पड़ते हैं लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष जवाब नहीं देते।