कर्नाटक से तीन ट्रक में तस्करी कर लाई गई एक करोड़ की सुपाड़ी पकड़ी

श्रीमती विजय लक्ष्मी श्रीवास्तव

कानपुर,। मंडी समिति के सचल दल ने बिना टैक्स चुकाए तस्करी कर लाई जा रही एक करोड़ रुपये की सुपाड़ी पकड़ी है। कर्नाटक से तीन ट्रक में 469 क्विंटल सुपाड़ी लाई जा रही थी। दो ट्रक किदवई नगर थाने और एक ट्रक मंडी समिति में खड़ा किया गया है।शनिवार देर रात सचल दस्ते को जानकारी मिली कि सुपाड़ी से लदे ट्रक मंडी समिति की गेट पर्ची कटाए बिना नयागंज जा सकते हैं। किदवई नगर शनिदेव मंदिर और हाईवे पर सचल दल तैनात हो गए। शनिदेव मंदिर के पास दस्ते ने दो ट्रक पकड़े। उनमें सुपाड़ी भरी थी। इसमें से एक ट्रक में 109 और दूसरे में 161 क्विंटल सुपाड़ी थी। सचल दल ने दोनों ही ट्रक को कब्जे में लेकर किदवई नगर थाने में पुलिस की सिपुदर्गी में खड़ा करा दिया। इसी बीच हाईवे पर तैनात सचल दल ने कोयला नगर के पास एक ट्रक को रोका। यह ट्रक भी उसी ट्रांसपोर्ट कंपनी का था। इसमें 199 क्विंटल सुपाड़ी थी।
सचल दल इस ट्रक को मंडी समिति लेकर गया और वहां खड़ा कर लिया। इन ट्रकों में मिले कागजों के मुताबिक करीब आधा दर्जन कारोबारियों ने यह माल मंगाया था जो मंडी समिति के लाइसेंसी कारोबारी थे लेकिन, बिना मंडी की पर्ची कटाए चोरी-छिपे माल मंगा रहे थे। सुपाड़ी पर मंडी समिति का एक फीसद मंडी शुल्क और आधा फीसद विकास शुल्क होता है। ट्रकों में मिली सुपाड़ी की कीमत 23 हजार रुपये प्रति क्विंटल बताई गई है। इस हिसाब से इनकी कीमत एक करोड़ सात लाख 87 हजार रुपये है। उप निदेशक मंडी राजीव श्रीवास्तव के मुताबिक सभी ट्रकों और माल का चालान होगा। मंडी मामले में परिवाद दायर करेगी। सभी कारोबारी कर अपवंचना करते हुए सुपाड़ी ला रहे थे।