पीएम नरेंद्र मोदी की रैली में सुरक्षा चूक; ठेकेदार समेत तीन पर एफआईआर दर्ज

अलीगढ़. यहां रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली की सुरक्षा में बड़ी चूक होने के बाद मामले में संबंधित ठेकेदार संजीव समेत तीन लोगों पर केस दर्ज किया गया है। पुलिस और खुफिया विभाग मामले की जांच में जुट गई है।

क्या था मामला
लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए 18 अप्रैल को पश्चिमी यूपी के आठ लोकसभा क्षेत्रों में चुनाव होना है। रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अलीगढ़ में चुनावी सभा की। जब पीएम मोदी नरेंद्र मंच पर थे, उस समय मंच के नीचे स्पार्किंग होने से आग लग गई। पीएम उस समय मंच पर हाथ हिलाकर जनता का अभिवादन स्वीकार कर रहे थे। वह माइक पर पहुंचने वाले थे। मंच के नीचे से धुआं बाहर नजर आया तो वहां मौजूद लोगों की नजर इस पर गई। कुछ ही पलों में आग पर काबू पा लिया गया, लेकिन सुरक्षा व्यवस्था में चूक गंभीर मानी जा रही है।

धारा 337 के तहत दर्ज हुआ मामला

अलीगढ के एसएसपी आकाश कुलहरि ने बताया कि प्रधानमंत्री का प्रोग्राम चल रहा था तभी वहां शार्ट सर्किट हुआ और धुंआ निकलना शुरू हो गया। जिसे फायर विभाग ने तत्काल बंद कराया। चूंकि हमको इलेक्ट्रिकल सेफ्टी का सर्टिफिकेट विभाग द्वारा दिया गया था, लेकिन फिर भी ये घटना हुई। इस मामले में जांच की जा रही है। सम्बंधित ठेकेदार संजीव चौहान, बिजली विभाग के कर्मचारी उदय भान यादव व सज्जन कुमार माथुर के खिलाफ धारा 337 में मामला दर्ज कराया गया है।