कश्मीर के ट्रेड यूनियन नेता यासीन खान को एनआइए ने भेजा नोटिस

राजेन्द्र भगत 

श्रीनगर,  राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने कश्मीर के ट्रेड यूनियन नेता यासीन खान को भी पूछताछ के लिए नोटिस भेजा है। यासीन खान के बारे में बताया जाता है कि वह जेकेएलएफ के चेयरमैन मोहम्मद यासीन मलिक के करीबियों में एक है।

गौरतलब है कि एनआइए ने सोमवार को टेरर फंडिंग मामले में एक बार फिर कट्टरपंथी सैयद अली शाह गिलानी के बड़े पुत्र डॉ. नईम उल जफर गिलानी को पूछताछ के लिए दिल्ली तलब किया है। उन्हें 22 अप्रैल की सुबह 10.30 बजे दिल्ली स्थित एनआइए कार्यालय में हाजिर होने के लिए कहा गया है। इससे पूर्व गत नौ अप्रैल को डॉ. नईम गिलानी को बुलाया गया था, लेकिन वह दिल्ली नहीं गए थे।

अधिकारियों ने बताया कि एनआइए ने श्रीनगर पुलिस को डॉ. नईम गिलानी तक सम्मन पहुंचाने के लिए कहा था। पुलिस स्टेशन सदर के एक दल ने सुबह हाउसिंग कॉलोनी, सन्नतनगर स्थित डॉ. नईम गिलानी को यह नोटिस पहुंचाया।

एनआइए ने वर्ष 2017 में कश्मीर में आतंकी हिंसा और अलगाववादी गतिविधियों के लिए पाकिस्तान व अन्य मुल्कों के साथ टेरर फंडिंग का मामला दर्ज किया था। इस मामले में करीब एक दर्जन अलगाववादी नेताओं को हिरासत में लिया जा चु़का है।एनआइए ने मीरवाइज मौलवी उमर फारूक से भी गत दिनों दिल्ली स्थित अपने मुख्यालय में पूछताछ की है। सैयद अली शाह गिलानी के दामात अल्ताफ फंतोश भी इसी मामले में बीते दो साल से तिहाड़ जेल में बंद हैं। डॉ. नईम गिलानी और उनके छोटे भाई नसीम गिलानी से बीते साल भी एनआइए ने पूछताछ की थी।