उप्र में आंधी-पानी के साथ गिरे ओले, गर्मी से मिली राहत पर किसानों की बढ़ी चिंता

रेखा बोरा 

लखनऊ, । गोरखपुर-बस्ती मंडल में मंगलवार की देर शाम मौसम ने अचानक करवट ली और आंधी -पानी के साथ ओले पडऩे शुरू हो गए। इससे गेहूं की फसल जमींदोज हो गई। इसके अलावा आम, टमाटर, हरी मिर्च आदि को भी काफी नुकसान हुआ है। बदली और बूंदाबांदी के चलते राजधानी लखनऊ में सोमवार के 42.5 डिग्री सेल्सियस के मुकाबले 11 डिग्री लुढ़ककर अधिकतम तापमान 31.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। मौसम विभाग के अनुसार बुधवार को भी कुछ स्थानों पर बारिश तो कहीं-कहीं धूलभरी आंधी और गरज-चमक के साथ बौछारें भी पड़ सकती हैं।

देवरिया, कुशीनगर, महराजगंज व संतकबीर नगर में आंधी-पानी के साथ कहीं कहीं ओले तथा बिजली गिरने की सूचना है। अचानक आई इस प्राकृतिक आपदा ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। गेहूं की फसल को भारी नुकसान हुआ है। वहीं बारिश के साथ बिजली गिरने से कुशीनगर जिले में एक दंपती झुलस गया। मौसम विभाग ने 15, 16 व 17 अप्रैल को आंधी- तूफान व बारिश के साथ ओले पड़ने की संभावना व्यक्त की है।

दूसरी ओर पिछले कई दिनों की तपिश के बाद प्रदेश में मंगलवार को कई क्षेत्रों में मौसम सुहाना रहा। पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के चलते सोमवार रात कुछ स्थानों पर धूलभरी आंधी के साथ बूंदाबांदी हुई, जिससे गर्मी से राहत मिली। वहीं गेहूं की फसल को नुकसान पहुंचा।