अमर्यादित बयानों से सोशल मीडिया पर टॉप ट्रेंड करने लगते हैं नेता

अमर्यादित बोल बोलते ही नेता सोशल मीडिया पर टॉप टै्रड करने लगते हैं। आजम खां द्वारा अभिनेत्री व रामपुर से भाजपा की उम्मीदवार जयाप्रदा पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद ट्विटर पर सोमवार को आजम खान सबसे ज्यादा ट्रेंड करने लगे। जयाप्रदा की सफाई भी ट्रेंड करने लगी। दोपहर 12 बजे से लेकर शाम 3 बजे के बीच दोनों नामों ने शीर्ष 5 व 6 स्थानों पर लगातार ट्रेंड किया। आजम खां आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद चौतरफा आलोचनाओं का सामना कर रहे हैं। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा सिने अभिनेता, अभिनेत्रियों और नेताओं ने इस बदबयानी की निंदा की।

आजम ने रामपुर में की थी टिप्पणी
आजम ने रविवार को रामपुर की एक जनसभा में जयाप्रदा का नाम लिए बिना लोगों से पूछा था कि ‘क्या राजनीति इतनी गिर जाएगी कि जिसे उंगली पकड़ कर हम रामपुर में लेकर आए….क्या आप उसे वोट देंगे? आपने 10 साल जिनसे अपना प्रतिनिधित्व करवाया उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया।’ इसके बाद की गई अमर्यादित टिप्पणी में सियासी बवाल मच गया।

ये नेता भी दे चुके हैं आपत्तिजनक बयान 
महिलाओं पर नेताओं के आपत्तिजनक बयान का यह कोई पहला मामला नहीं है। पूर्व में समाजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने दुराचार मामले में लड़कों की पैरवी की थी।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री जयंती नटराजन पर भी अभद्र टिप्पणी की थी। भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने महिलाओं के शाृंगार पर गलत बयानबाजी की थी।

आजम खान के बयान पर इन नेताओं ने जाहिर की नाराजगी 
मुलायम भाई आप पितामह हैं समाजवादी पार्टी के। आपके सामने रामपुर में द्रौपदी का चीर हरण हो रहा है। आप भीष्म की तरह मौन साधने की गलती मत करिए।  (सुषमा स्वराज, विदेश मंत्री)

आजम खान ने जयाप्रदा जी पर जो घिनौनी टिप्पणी की है वह सिर्फ जया जी का अपमान नहीं बल्कि देश की करोड़ों माताओं-बहनों का अपमान है। (अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष)

जयाप्रदा जी पर घटिया और अशोभनीय टिप्पणी आजम खान की सोच और व्यक्तित्व को दिखाता है। इस पर अखिलेश जी की चुप्पी शर्मनाक है। (योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश)

यह बयान घोर निंदनीय है। आजम खान को महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।