चौतरफा घिरने के बाद हार्दिक के ट्विटर से बेरोजगार शब्द हुआ गायब

अहमदाबाद: कांग्रेस में पिछले माह शामिल हुए पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) के पूर्व नेता हार्दिक पटेल ने हेलीकॉप्टर में उनकी सेल्फी और वीडियो के सोशल मीडिया में वायरल होने और इसकी आलोचना के बाद अपने ट्विटर अकाउंट पर अपने नाम के आगे लगा बेरोजगार शब्द आज हटा लिया है। हार्दिक ने गत 12 मार्च को कांग्रेस का दामन थामने के लगभग एक सप्ताह बाद भाजपा के च्मै भीे चौकीदार’ अभियान के विरोध में अपने नाम के आगे बेरोजगार शब्द लगा दिया था जिसकी खासी चर्चा हुई थी। हालांकि आज ट्विटर अकाउंट से यह शब्द हटा लिया गया है।

कांग्रेस के स्टार प्रचारकों में शामिल है हार्दिक पटेल
दरअसल, कांग्रेस के स्टार प्रचारकों में शामिल हार्दिक अब हेलीकॉप्टर से जाकर चुनावी सभाओं में शिरकत कर रहे हैं। उनकी ऐसी ही एक सेल्फी और वीडियो के कल सोशल मीडिया में वायरल होने पर लोगों ने उनकी कथित बेरोजगारी को लेकर खासा तंज किया था। गुजरात के उपमुख्यमंत्री नीतिन पटेल ने भी उनकी खासी आलोचना की थी। उन्होंने कहा कि अपने निजी स्वार्थ और राजनीतिक महत्वाकांक्षा के लिए पाटीदार समाज को धोखा देने वाले हार्दिक की कलई खुल गई है। खुद को बेरोजगार कहने वाला यह आदमी अब हेलीकॉप्टर में सेल्फी ले रहा है।

हार्दिक ने जताई थी लोकसभा चुनाव लडऩे की इच्छा 
ज्ञातव्य है कि हार्दिक ने लोकसभा चुनाव लडऩे की इच्छा जताई थी पर एक आपराधिक मामले में सजायाफ्ता होने के कारण अदालत ने उन्हें इसकी इजाजत नहीं दी। इस बीच, मध्य पूर्व गुजरात के महिसागर जिले के लुनावाड़ा में एक किसान ने हार्दिक की हेलीकाप्टर को उसकी खेत में उतारने की इजाजत देने से इंकार कर दिया। कांग्रेस ने अपने स्थानीय प्रत्याशी वी के खांट के प्रचार के लिए आ रहे हार्दिक की हेलीकाप्टर को वहां उतारने के लिए प्रशासन से मंजूरी ली थी पर अंतिम समय में किसान के इंकार के बाद अब वह सड़क मार्ग से वहां पहुंच सकेंगे।