हार्दिक को थप्पड़ मारने वाले ने कहा- आंदोलन की वजह से गर्भवती पत्नी को परेशानी उठानी पड़ी थी

सुरेंद्रनगर. कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल शुक्रवार को गुजरात के सुरेंद्रनगर में चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान एक व्यक्ति ने मंच पर आकर हार्दिक को थप्पड़ मार दिया। हार्दिक के समर्थकों ने आरोपी को पकड़कर पीट दिया। पुलिस ने बीच-बचाव कर युवक को भीड़ से बचाया और हिरासत में ले लिया। थप्पड़ मारने वाला व्यक्ति महेसाणा जिले का रहने वाला तरुण गज्जर है। उसने कहा कि पाटीदार आंदोलन के वक्त मेरी पत्नी गर्भवती थी। उसका अस्पताल में इलाज चल रहा था। उस दौरान मुझे कई परेशानियों का सामना करना पड़ा। तभी मैंने तय कर लिया था कि इस आदमी को मारूंगा। इस आदमी को किसी भी तरह सबक सिखाऊंगा।

तरुण ने कहा- अहमदाबाद में हार्दिक की रैली के दौरान मैं अपने बच्चे के लिए दवाएं लेने गया था। इस दौरान सबकुछ बंद था। वह सड़कें बंद कर देता है, वह जब चाहता है गुजरात बंद कर देता है। वह कौन है? वह गुजरात का हिटलर है? तरुण ने पाटीदार आंदोलन के दौरान मारे गए 14 युवकों की हत्या के लिए हार्दिक को जिम्मेदार ठहराया। वह हार्दिक के कांग्रेस में शामिल होने के विरोध में भी चिल्ला रहा था।

हार्दिक ने कहा- हमलावर बाहरी है स्थानीय नहीं

पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) के पूर्व नेता हार्दिक का गुजरात गृहराज्य है। वे सुरेंद्रनगर जिले के वढवाण तालुका के बलदाणा गांव में कांग्रेस की जन आक्रोश रैली को संबोधित कर रहे थे। हार्दिक ने इस घटना के बाद भी अपना संबोधन जारी रखा। उन्होंने बाद में पत्रकारों से कहा कि यह उन्हें डराने के लिए भाजपा की साजिश है। हमलावर बाहरी है स्थानीय नहीं। भाजपा मुझ पर हमले करवा रही है। वे मुझे जान से मारना चाहते हैं, लेकिन हम चुप नहीं रहेंगे। हार्दिक ने इस संबंध में थाने में शिकायत दर्ज कराई है।