आतंक के गढ़ अनंतनाग में मतदान, कश्मीरी पंडितो ने विशेष केंद्र पर डाला वोट

राजेन्द्र भगत 

आतंकवाद प्रभावित दक्षिणी कश्मीर की अनंतनाग लोकसभा सीट पर मंगलवार को कड़ी सुरक्षा के बीच प्रथम चरण का मतदान हो रहा है। मतदान सुबह सात से शाम चार बजे तक होगा। मतदान को देखते हुए अनंतनाग में इंटरनेट सेवा फिलहाल बंद कर दी गई है।

अनंतनाग में नौ बजे तक 1.55 फीसदी मतदान हुआ है।

अनंतनाग के खानबल में गवर्नमेंट हायर सीनियर सेकेंडरी स्कूल में पोलिंग बूथ पर मतदान हो रहा है।पहले चरण में केवल अनंतनाग जिले की छह विधानसभा सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। यह देश की इकलौती संसदीय सीट है जिस पर तीन चरणों में मतदान होगा। दूसरे चरण में 29 अप्रैल को कुलगाम व तीसरे में छह मई को शोपियां व पुलवामा जिलों में वोट डाले जाएंगे। इस सीट पर कुल 18 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।

इस सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री तथा पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती की प्रतिष्ठा दांव पर है। कांग्रेस प्रत्याशी जीए मीर, नेकां के हसनैन मसूदी तथा भाजपा के सोफी युसूफ मुकाबले को रोचक बनाए हुए हैं। छह विधानसभा क्षेत्रों अनंतनाग, डोरू, कोकरनाग, शांगस, बिजबिहाड़ा व पहलगाम में मतदान में कुल पांच लाख 29 हजार 256 मतदाता वोट डालेंगे। इनमें 269603 पुरुष, 257540 महिला, 2102 सर्विस वोटर तथा 11 ट्रांसजेंडर वोटर हैं। इसके लिए 714 मतदान केंद्र बनाए गए है। सभी विधानसभा क्षेत्रों में बने केंद्रों पर सोमवार को पोलिंग पार्टियां पहुंच गईं।

विधानसभावार    वोटर
कोकरनाग      93694
डोरू               78653
बिजबिहाड़ा     93298
शांगस           88374
पहलगाम      86614
अनंतनाग      86530

मतदान केंद्रों पर भारी सुरक्षा
मतदान केंद्रों के आसपास सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। 15 हजार से अधिक सुरक्षा बलों के जवानों को तैनात किया गया है। इनमें सीआरपीएफ, एसएसबी, आईटीबीपी के साथ ही राज्य पुलिस भी है। 14 एसएसपी, 60 डीएसपी तथा 100 इंस्पेक्टर व सब इंस्पेक्टर रैंक के अधिकारियों की तैनाती की गई है।