नरयावली : यादव-दांगी दाेनाें तरफ बंट रहे, जिस अाेर अजा वाेटर का झुकाव उसे मिलेगी यहां से बढ़त

सागर

शिरीष सिलकारी 

सागर संसदीय क्षेत्र की नरयावली विधानसभा में पिछले तीन बार से भाजपा जीतती अा रही है, लेकिन हाल के विधानसभा चुनाव में यहां कांग्रेस का वाेट बैंक बढ़ता दिखा। अजा बाहुल्य इस सीट पर इसी जाति के वाेट निर्णायक साबित हाेते अा रहे हैं। भाजपा-कांग्रेस दाेनाें प्रत्याशी दांगी हाेने के कारण इस जाति के वाेट दाेनाें प्रत्याशियाें में बंटते दिख रहे हैं। एक दर्जन गांवाें में यादव वाेटर की संख्या 15-20 हजार के करीब है। अब तक भाजपा के खाते में जाने वाले यादव वाेटर का रुझान अभी तक किसी एक तरफ नहीं है। गांवाें में माेदी फैक्टर दिख रहा है, लेकिन लाेग कर्ज माफी के बाद कांग्रेस की न्याय याेजना के तहत मिलने वाले 72 हजार रुपए की बात भी छेड़ देते हैं। अंतत: अजा वर्ग के वाेटर ही इस सीट का मिजाज तय करेंगे।

नरयावली विधानसभा की वाेटर संख्या 2 लाख 32 हजार के करीब है। सबसे ज्यादा 60 हजार वाेटर अजा वर्ग के हैं। इनमें अहिरवार, चाैधरी, जाटव मुख्य हैं। अाेबीसी का वाेट दूसरे नंबर पर अाता है। इनमें ठाकुर, यादव, पटेल, कुर्मी व लाेधी जातियां में बंट जाता है। तीसरे नंबर पर सवर्ण वाेट हैं, जाे कि अब तक भाजपा के खाते में जाते रहे हैं। इस बार जाति अाधारित चुनाव के साथ संगठन में गुटबाजी का भी प्रभाव दिख रहा है। नरयावली कस्बे में विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की स्थिति मजबूत रही थी।