सैम पित्रोदा ने मांगी माफी, कहा- बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया

1984 सिख दंगो को लेकर दिए बयान पर ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा ने माफी मांग ली है। उन्होेंने कहा कि मेरे बयान को तोड़ मरो़ड़कर पेश किया गया। पित्रोदा ने कहा, “मेरी हिंदी सही नहीं है, मैं कहना चाहता था, जो हुआ, बुरा हुआ। मैं अपने बयान के लिए बयान के लिए माफी मांगता हूं। इससे पहले काग्रेस ने पित्रोदा के बयान से किनारा करते हुए कहा, “सैम पित्रोदा का व्यक्तिगत विचार, पार्टी का विचार नहीं है। कांग्रेस 1984 दंगा पीड़ितों के परिवार के न्याय के समर्थन में है।”

बता दें कि सैम पित्रोदा के बयान के बाद भाजपा ने इस मुद्दे को लपक लिया है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पित्रोदा के बयान को लेकर उनके साथ ही कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने इस बयान को कांग्रेस की मानसिकता से जोड़ दिया। हालांकि, सैम पित्रोदा पहले ही कह चुके हैं कि उनके बयान को गलत तरीके से पेश किया जा रहा है।

गौरतलब है कि गुरुवार को एक कार्यक्रम के दौरान सैम पित्रोदा ने कहा था कि अब क्या है 84 का? आपने क्या किया पांच साल में उसकी बात करिए। 1984 में हुआ तो आपने क्या किया? आपने रोजगार दिलाने का वादा कर जनता से वोट मांगा था। आपने 200 स्मार्ट सिटी बनाने का लोगों को सपना दिखाया था। आप इसे भी पूरा नहीं कर सके। आपने कुछ नहीं किया इसलिए आप यहां-वहां गप लड़ाते हैं।