ट्रंप ने चीन से सभी शेष आयात पर शुल्क बढ़ाने के दिए आदेश

चीन की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार की सुबह चीन के साथ अपने व्यापार युद्ध को बढ़ा दिया है। अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन से होने वाले आयात में अब उन सभी चीजों पर टैक्स वसूलने का फैसला लिया है, जिन पर पहले कोई टैक्स नहीं लग रहा था। अब उन सभी सामान पर भी टैक्स लगेगा।

उठाया एक और कदम
अमरीकी व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइथिजर ने एक बयान में जानकारी देते हुए बताया कि प्रेजिडेंट ने हमें चीन के उन प्रोडक्ट्स पर भी इंपोर्ट टैरिफ बढ़ाने का आदेश दिया है, जो अब तक इस दायरे से बाहर थीं। इस तरह अब चीन से करीब 300 बिलियन डॉलर तक के आयात पर टैरिफ बढ़ जाएगा। अमरीका ने महज 24 घंटों के अंदर ही एक और नया फैसला ले लिया है जबकि पहले अमरीका ने चीन से होने वाले 200 अरब डॉलर के आयात पर ही टैरिफ बढ़ाया था।

बातचीत के बाद बढ़ा दी आयात सीमा
ट्रंप प्रशासन ने जानकारी देते हुए बताया कि जब चीन के साथ व्यापारिक चर्चा के बाद भी किसी बात का हल नहीं निकला तो हमने अपने निर्णय को बदल दिया है और अब से 300 बिलियन डॉलर तक के आयात पर टैरिफ बढ़ जाएगा। दोनों ही देशों ने बातचीत के दौरान इस बात का ध्यान रखा कि दोनों देशों के संबध खराब न हों और स्थितियां सुधर जाएं लेकिन इस बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला। इस बातचीत के बाद ही अमरीका सरकार ने इसको बढ़ा दिया है।

25 फीसदी किया टैरिफ
इसके साथ ही डोनाल्ड ट्रंप ने इस बात के संकेत दिए थे कि चीन से हर तरह के आयात पर अमरीका टैरिफ बढ़ाने जा रहा है। आपको बता दें कि इससे पहले अमरीका ने चीन से होने वाले 200 बिलियन डॉलर तक के आयात पर 10 से 25 फीसदी टैरिफ बढ़ाने का फैसला लिया था। पहले अमरीका ने संकेत दिए थे कि चीन के साथ हमारे संबध सुधर सकते हैं लेकिन बातचीत के बाद ट्रंप सरकार ने ये नया फैसला लिया, जिससे चीन को बड़ा झटका लगा है। ट्रंप ने एक ट्वीट में कहा था, ‘बीते दो दिनों में अमेरिका और चीन में दोनों देशों के बीच व्यापारिक संबंधों को लेकर रचनात्मक वार्ता हुई है।’ यही नहीं उन्होंने कहा था कि मेरे और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच संबंध बेहतर बने रहेंगे और भविष्य में भी चर्चा जारी रहेगी।