तीसरे चरण के मतदान के लिए व्यापक इंतजाम, जिलों की सीमा सील

भोपाल: मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के दो चरण शांतिपूर्ण तरीके से निपटने के बाद अब तीसरे चरण के लिए भी व्यापक इंतज़ाम किए गए हैं। प्रदेश में जिन आठ लोकसभा सीटों पर चुनाव है, वहां पुलिस के साथ पैरामिलिट्री फोर्स भी तैनात कर दिया गया है। इन इलाकों में चुनाव प्रचार थमने के साथ ही हर सीट पर पुलिस ने फ्लैग मार्च निकाला।

निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान के लिए चुनाव सामग्री वितरण केंद्र से लेकर पोलिंग बूथ तक तमाम इंतजाम किए गए हैं। पूरे प्रदेश में उन ज़िलों में जहां रविवार को मतदान होना है, वहां की सीमा सील कर दी गयी है। शहर में आने वाले हर वाहन की चैकिंग की जा रही है। हर तरह ज़िला पुलिस के साथ बीएसएफ, सीआरपीएफ, आरएएफ और होमगार्ड का फोर्स तैनात कर दिया गया है।

9 हज़ार अधिकारी- कर्मचारियों की तैनाती 
भोपाल लोकसभा सीट के लिए 9 हज़ार अधिकारी- कर्मचारी तैनात किए गए हैं। जिले में बीएसएफ, सीआरपीएफ और आरएएफ की 9 कंपनियों सहित 6 हजार पुलिस फोर्स तैनात किया गया है। हर विधानसभा क्षेत्र में फ्लाइंग स्क्वॉयड और स्टैटिक सर्विलांस की 3-3 टीमों में कार्यपालिक दंडाधिकारी के अतिरिक्त पुलिस अधिकारी भी तैनात हैं। हर थाने पर थाना प्रभारी की मोबाइल के अलावा उप निरीक्षक के नेतृत्व में 1-1 क्यूआरटी मोबाइल यूनिट भी तैनात है।

पूरे भोपाल जिले में 200 सैक्टर मजिस्ट्रेट की मोबाइल यूनिट के अलावा 200 पुलिस सेक्टर मोबाइल भी बनायी गयी हैं। एक पुलिस मोबाइल 10-12 मतदान केंद्रों पर लगातार दौर कर निगरानी करेगी.शहर में करीबन 1200 सीसीटीव्ही कैमरों के ज़रिए मतदान केंद्रों पर नज़र रखी जाएगी। इसके अलावा अतिरिक्त सुरक्षा इंतेजाम के लिए डायल-100 की 50 गाड़ियां, 11 मोटरसाइकिल भोपाल जिले में पेट्रोलिंग करेंगी।  जिन सीटों पर रविवार को मतदान होना है उनमें से ज़्यादातर मतदान केन्द्रों पर वेबकास्टिंग, सीसीटीव्ही, वीडियोग्राफी से निगरानी रखी जाएगी।