क्रिकेट के मैदान पर हुआ बड़ा हादसा, 18 वर्ष के युवा क्रिकेटर की गर्दन पर गेंद लगने से हुई मौत

नई दिल्ली क्रिकेट के मैदान से एक और बुरी खबर सामने आई। दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में एक मैच के दौरान बल्लेबाजी करते हुए 18 वर्ष के युवा क्रिकेटर जहांगीर अहमद वार की गर्दन पर गेंद लगी और उनकी मौत हो गई। जहांगीर बारामूला जिला स्थि पट्टन के रहने वाले थे और वो बारामूला की तरफ से बुदगाम के विरुद्ध अंडर 19 का मुकाबला खेल रहे थे।

मट्टन पुलिस स्टेशन के अधिकारी ने कहा कि ये हादसा महज एक संयोग था क्योंकि जहांगीर हेलमेट लगाकर बल्लेबाजी कर रहे थे इसके बावजूद गेंद उनकी गर्दन के नाजुक हिस्से पर जाकर लगी। इसके बाद वो बेसुध हो गए और जब उन्हें अस्पताल ले जाया गया तो वहां पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। स्थानीय लोगों का कहना है कि जहांगीर 11वीं क्लास में पढ़ता था और बाएं हाथ का बल्लेबाज था। बल्लेबाजी के दौरान उसने गेंद को पुल शॉट खेलने की कोशिश की, लेकिन वो चूक गए और ये हादसा हुआ।

युवा सेवाएं और खेल के महानिदेशक सलीम उर रहमान ने कहा कि वार को बिलकुल वैसे ही गेंद लगी, जैसे ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज फिलिप ह्यूज को शेफील्ड शील्ड मैच के दौरान लगी थी।गौरतलब है कि 25 नवंबर 2014 को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए मुकाबले में सीन एबोट की गेंद पर ह्यूज चोटिल हो गए थे। दो दिन के बाद उनकी मौत हो गई थी।

रहमान ने कहा कि जहांगीर के गेंदबाज ने शॉर्ट गेंद डाली और उन्होंने इस गेंद पर पुल शॉट खेलने की कोशिश की। उन्होंने हेलमेट पहना था जिसमें सुरक्षा संबंधी सभी जरूरी चीजें लगी हुई थी, लेकिन गेंद हेलमेट पर नहीं बल्कि उनके गर्दन पर जाकर लगी। ये ब्रेन स्टेम की चोट थी। हालांकि अस्पताल मैदान से सिर्फ दस मिनट की दूरी पर था और हमने सारी तैयारियां करवा ली थीं, लेकिन उन्हें नहीं बचाया जा सका और अस्पताल ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।