अरपा भैसाझार बैराज से पहली बार छोड़ा गया पानी, 10 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में हो सकेगी सिंचाई

बिलासपुर। कोटा में निर्माणाधीन अरपा भैसाझार बैराज का काम अंतिम चरण में है। सोमवार को पहली बार नहरों में पानी छोड़कर इसकी जांच की गई। 22 किलोमीटर तक पानी सफलतापूर्वक पहुंच गया। अब लगातार 15 दिनों तक नहर में 12-12 घण्टे पानी छोड़कर देखा जाएगा।

25 हजार हेक्टेयर सिंचाई क्षमता वाले बैराज से इस बार 10 हजार हेक्टेयर कृषि क्षेत्र में पानी दिया जाएगा। अरपा भैसाझार के निर्मांण को 6 जून 2012 को स्वीकृति मिली थी। 7 वर्षों में इसका निर्मांण कार्य पूरा हुआ है।

कुल 1141 करोड़ लागत की इस सिंचाई परियोजना के तहत 27 किलोमीटर की 5 नहरों का निर्मांण किया गया है। इस परियोजना से क्षेत्र के 96 हजार किसानों को लाभ मिलेगा। इनमें तखतपुर के 71 गांव, बिह्ला 30 गांव और कोटा के 1 गांव को पानी मिलेगा।