मध्‍यप्रदेश में अब पांचवीं व आठवीं के बच्चों का होगा मासिक मूल्यांकन

भोपाल। पांचवी-आठवीं की बोर्ड परीक्षा के साथ-साथ इस बार बच्चों का मासिक मूल्यांकन भी होगा। स्कूल शिक्षा विभाग ने इसकी तैयारी कर ली है। इसके तहत महीने में एक बार टेस्ट होगा, जिससे बच्चों ने कितना पढ़ा और शिक्षकों ने कितनी पढ़ाई कराई, इसकी समीक्षा भी होगी।

मासिक मूल्यांकन की प्रक्रिया को मजबूत बनाने के लिए एक प्रश्नपत्र शिक्षा पोर्टल पर भी अपलोड होगा। इससे सभी उसका अध्ययन कर सकेंगे। राज्य शिक्षा केंद्र की संचालिका आईरीन सिंथिया ने इसके निर्देश जारी कर दिए हैं। उन्होंने कहा है कि मासिक मूल्याकंन से बच्चों की शैक्षणिक व्यवस्था में सुधार आएगा।

प्रश्नपत्र आधारित होगा मूल्यांकन

मासिक मूल्यांकन या सीसीई (कंटीन्युअस एंड कॉम्प्रिहेंसिव इवैल्यूएशन) प्रश्नपत्र आधारित होगा। विद्यार्थियों के लिखे उत्तरों के आधार पर सामने आई समस्याओं से सीखने की कमियों की पहचान की जाएगी। मासिक मूल्यांकन की व्यवस्था सिर्फ उन्हीं स्कूलों में रहेगी, जहां सीसीई सिस्टम के तहत बदलाव किए गए हैं।

अन्य स्कूलों में 5वीं और 8वीं में अध्ययनरत् बच्चों का त्रैमासिक मूल्यांकन होगा। यह सितंबर में किया जाएगा। इससे प्राथमिक और माध्यमिक स्तर पर बेहतर शिक्षा हासिल करने के बाद आगे की पढ़ाई में उन्हें आसानी होगी। इसके लिए शिक्षकों को विशेष प्रशिक्षण भी दिया गया है।

ऐसा होगा प्रश्नपत्र 

– वस्तुनिष्ठ, अति वस्तुनिष्ठ, बहुविकल्पीय, दीर्घ उत्तरीय प्रश्नपत्र।

– एक प्रकार के पांच प्रश्नपत्र होंगे शामिल।

– लिखित और मौखिक के अंकों का होगा समावेश।