सोनू पंजाबन से नाबालिग खरीद साल भर करते रहे शोषण, दो काबू

नई दिल्ली: सोनू पंजाबन से एक नाबालिग को खरीद कर दो दलाल करीब एक साल तक उसका शोषण करते रहे। उसकी जिंदगी को नर्क बना डाला था। लेकिन क्राइम ब्रांच की टीम ने सोनू पंजाबन के इन दो सदस्यों को आखिरकर धर दबोचा।

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान जितेन्द्र कुमार उर्फ लाल और सतपाल सिंह के रूप में हुई है। आरोपियों ने उस किशोरी को कई दलालों को बेच चुके हैं। इस दौरान उसका यौन शोषण भी होता रहा। आरोपी लाला को लखनऊ से गिरफ्तार किया गया है, जबकि सतपाल सिंह को पीरागढ़ी से पकड़ा गया है। आरोपियों ने एक किशोरी को पहले सोनू पंजाबन से खरीदा था और उसका शारीरिक शोषण किया था। पुलिस अधिकारी के मुताबिक 2014 में नजफगढ़ थाने में एक किशोरी ने शिकायत दी थी कि वह करीब एक साल तक तो सिर्फ सतपाल सिंह के कब्जे में रही, जबकि उससे पहले भी वह कई बार दलालों के हाथ बेची-खरीदी गई थी।

नाबालिग जब सतपाल के पास पहुंची, तो उसने एक साल तक बंधक बनाए रखा, जहां कई बार उसका शोषण किया गया। आखिरकार, वह एक दिन सतपाल के घर से भागने में कामयाब हो गई और पूरा मामला पुलिस के संज्ञान में आया। पुलिस के मुताबिक, नाबालिग की शिकायत पर पुलिस ने रेप, किडनैपिंग, इम्मोरल ट्रैफिकिंग, पॉक्सो की डेढ़ दर्जन धाराओं में एफआईआर दर्ज की और साल 2017 में केस की जांच क्राइम ब्रांच की साइबर सेल को भेज दी गई।