बौंली— इस्लामपुरा में नहीं बन पा रही पक्की सड़क

टोंक- सवाई माधोपुर ब्यूरो (अजय शेखर शर्मा)
बौंली—  उपखंड की   थडोली  ग्राम पंचायत के राजस्व गांव इस्लामपुरा के वाशिंदे आज भी पक्की सड़क के साथ प्राथमिक विद्यालय की क्रमोन्नति के इंतजार में हैं ।ग्यारह सौ की आबादी का यह राजस्व गांव बागडोली व बंधावल से 3 — 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है लेकिन दोनों ही तरफ से पक्की सड़क नहीं होने से  कच्ची डगर से आने जाने में ग्रामीणों व स्कूली बच्चों को कितनी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है इसकी कहानी बयां नहीं की जा सकती ।कच्ची डगर की स्थिति यह है कि बरसात के दिनों में तो स्कूली बच्चों का दूसरे गाँव विद्यालयों में आना जाना लगभग बंद सा ही हो जाता है । थडोली  ग्राम पंचायत के सरपंच साबिर खान ,पूर्व सरपंच सीताराम मीणा  सहित विधायक प्रतिनिधि साजिद खान ,सदीक फजलुद्दीन आदि ने बताया कि वे इस्लामपुरा गांव तक पक्की सड़क बनाने के लिए क ई वर्षों से जनप्रतिनिधियों से गुहार करते आ रहे हैं लेकिन किसी के द्वारा भी ध्यान नहीं दिया जा रहा। ऐसी स्थिति में बरसात के दिनों में उन्हें खासी परेशानी उठानी पड़ती है ।उन्होंने बताया कि इस बार बामनवास विधायक इंदिरा मीणा को निर्वाचित कराने में यहां के युवाओं व ग्रामीणों ने अपनी सक्रिय भागीदारी भी निभाई और उन्हें विधायक के निर्वाचित होने के बाद एक बहुत बड़ी उम्मीद भी बनी कि चलो उनका विद्यालय क्रमोन्नत होगा व कच्ची डगर  भी पक्की  बनेगी लेकिन उनकी उम्मीदे  6 माह निकल जाने पर भी पूरी नहीं हो पाई। यद्यपि यहां के ग्रामीणों  को पूरी आशा है कि उनके काम होंगे लेकिन वे निराश भी हैं कि कहीं वे  इस बार भी  जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा के कारण  हाथ मलते ही न रह जाए ।अपनी पक्की सड़क व विद्यालय क्रमोन्नति की मांग को लेकर इस्लामपुरा के ग्रामीण  रविवार को विधायक निवास पर पहुंचे । उन्होंने चुनाव के दौरान किए वादों की याद दिला ज्ञापन सौंप शीघ्र प्रभाव से बागडोली व बंधावल से पक्की डामरीकरण सड़क बनवा  प्राथमिक विद्यालय को उच्च प्राथमिक विद्यालय में क्रमोन्नत कराने की मांग की। ग्रामीणों ने बताया कि विधायक ने उन्हें पूर्ण आश्वासन दिया है ।ग्रामीणों ने ज्ञापन की प्रति मुख्य सचिव, संभागीय आयुक्त व जिला कलेक्टर को भी भेजी है ।