पासवान के निधन पर लोकसभा दिनभर के लिए स्थगित नहीं होने से विपक्ष नाराज

नई दिल्लीः लोक जनशक्ति पार्टी के नेता एवं लोकसभा के मौजूदा सांसद रामचंद्र पासवान के निधन पर सदन में उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी गयी लेकिन परंपरा के अनुसार सदन की कार्यवाही उनकी स्मृति में दिनभर के लिए स्थगित नहीं किये जाने पर विपक्षी सदस्यों ने आज कड़ी नाराजगी व्यक्त की। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित एवं रामचंद्र पासवान के निधन पर अपना शोक संदेश पढ़ने के बाद सदन की कार्यवाही दो बजे तक स्थगित करने की घोषणा की।

सदन की परंपरा के अनुसार सदन के मौजूदा सदस्य के निधन पर कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित की जाती है। लेकिन अध्यक्ष ने दिन भर की बजाय भोजनावकाश तक ही कार्यवाही स्थगित की। इस पर कांग्रेस, द्रविड़ मुनेत्र कषगम, तृणमूल कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी के सदस्य भड़क गये। बसपा नेता दानिश अली ने कहा कि क्या रामचंद्र  पासवान के दलित समाज के होने के कारण कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित नहीं की जा रही है। अन्य विपक्षी सदस्यों ने भी कहा कि रामचंद्र पासवान के मौजूदा सांसद होने के नाते सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित होनी चाहिए।