बौंली — सारांश बने न्यायिक अधिकारी

टोंक-  सवाई माधोपुर ब्यूरो (अजयशेखर शर्मा)
गंगापुर — सवाई माधोपुर जिले के गंगापुर सिटी उपखंड निवासी सारांश शर्मा पुत्र गोपाल जैमिनी ने उत्तर प्रदेश न्यायिक सेवा में चयन करा परिवार के साथ ब्राह्मण समाज व अपने शहर का नाम रोशन किया है ।उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा घोषित सिविल जज एवं न्यायिक सेवा परीक्षा में सारांश ने 600 में से 248 रैंक प्राप्त की है। सारांश के भाई असिस्टेंट कमांडेंट स्नेल ने जब सारांश को यह सूचना दी तो वह खुशी से झूम उठा एवं पूरे परिवार में खुशी का माहौल पैदा हो गया। गौरतलब है कि सारांश का इस चयन से पूर्व मध्य प्रदेश न्यायिक सेवा में भी चयन हो चुका है। सारांश ने बताया कि ला स्नातक के दौरान ही उसने न्यायिक सेवा में जाने का लक्ष्य बना लिया था एवं इसी लक्ष्य को लेकर उसने अपने अध्ययन को जारी रखा। कठिन परिश्रम के बाद आज उसने यह मुकाम हासिल किया है ।सारांश ने अपनी इस सफलता के लिए अपनी अधिवक्ता मां ,चाचा एडवोकेट राजेश  जैमिनी, गुरु करौली के अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी शिवदत्त जैमिनी को देते हुए बताया कि उनके मार्गदर्शन में ही उसने न्यायिक सेवा में जाने के लिए कठिन परिश्रम कर यह मुकाम हासिल किया है। साथ ही उसने यह भी बताया कि उसका सपना सर्वोच्च न्यायालय का न्यायाधीश बनने का है उसके लिए वह अभी से प्रयासरत है। सारांश के चयन पर बाबा दयाल दत्त जैमिनी सहित ब्राह्मण समाज अध्यक्ष हेमंत शर्मा, एडवोकेट जितेंद्र पांडे, राजेंद्र शर्मा पीपी, पूर्व विधायक दुर्गाप्रसाद अग्रवाल, पूर्व सभापति हरिप्रसाद बोहरा, सभापति संगीता बोहरा सहित ब्राह्मण समाज के लोगों ने खुशी जाहिर की है ।