इन्दौर — शातिर नकबजनी गिरोह, पुलिस गिरफ्त मे।

इन्दौर — शातिर नकबजनी गिरोह, पुलिस  गिरफ्त मे।
(आकांक्षा  सिंह)

*• वरदात के दौरान रखते थे महिला साथी को कार मे अपने साथ, ताकि किसी को शक न हो ।*

*• घटना मे प्रयुक्त सेंट्रो कार व  स्वीफ्ट डिजायर कार सहित, लाखों का माल जप्त*

*• गिरफ्तार आरोपियों पर पूर्व मे भी है कई अपराध पंजीबद्ध*

इन्दौर-दिनांक 22 जुलाई 2019- शहर में चोरी, नकबजनी एवं संपत्ति संबंधी अपराधो पर नियत्रंण हेतु, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इन्दौर श्रीमती रूचि वर्धन मिश्र द्वारा पूर्व अपराधियों एवं संदिग्ध बदमाशों की अवैधानिक गतिविधियों पर कड़ी नजर रख प्रभावी कार्यवाही करने के लिये इन्दौर पुलिस को निर्देशित किया गया है। उक्त निर्देशों के तारतम्य में पुलिस अधीक्षक पूर्व इन्दौर श्री मो. यूसुफ कुरैशी एवं अति. पुलिस अधीक्षक पूर्व ज़ोन-2 श्री शैलेन्द्र सिंह चौहान के मार्गदर्शन में, पुलिस थाना लसूड़िया द्वारा शातिर नकबजन गिरोह को लाखों का माल सहित पकड़कने में सफलता प्राप्त की है।
पुलिस थाना लसूड़िया क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 13 मार्च 2019  की रात्रि को फरियादी दयाशंकर तिवारी निवासी स्कीम नं. 78 इन्दौर के घर मे दरवाजे का नकूचा तोडकर बदमाशो ने लाखो कि ज्वेलरी व नगदी रुपयो की चोरी कर केले गये थे। जिस पर पुलिस थाना लसूड़िया द्वारा प्रकरण दर्ज कर विवेचना में लिया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में नगर पुलिस अधीक्षक विजय नगर श्री हरीश मोटवानी द्वारा थाना प्रभारी लसूड़िया श्री संतोष दूधी व उनकी टीम को आरोपियों की पतासाजी हेतु लगाया गया।
पुलिस टीम द्वारा अथक प्रयासो के साथ तीन आरोपियों 1. अनीस उर्फ काला उर्फ जाहीद पिता चांद खां उम्र 30 साल निवासी 82 ई सेक्टर चदंन नगर हाल मुकाम पुरानी जेल के पीछे आजाद नगर, 2. युसूफ उर्फ लाल पिता मुंशी खां उम्र 32 साल प्रेम नगर आजाद नगर हाल मुकाम पानीगांव देवास, 3. अल्का पिता अशोक उम्र 44 साल निवासी श्रीराम नगर थाना द्वारकापुरी इन्दौर को गिरफ्तार किया गया। पुलिस टीम द्वारा फरार आरोपी 1. इमरान पिता बाबु कुरैशी सिकंदराबाद थाना सदा बाजार इन्दौर 2. सिकंदर पिता जब्बार निवासी कमलापुर जिला देवास की तलाश की जा रही है।
पुलिस पुछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि वरदात के दौरान महिला साथी को कार मे बैठा कर लाते थे, ताकि पुलिस के रोकने पर महिला को परिवार बताकर बहना बनाते थें। आरोपियों ने बताया कि फरियादी के घर मे पांच करोड रुपये रखे होने की सूचना किसी महिला द्वारा गिरोह के मुखिया इमरान को दी गई थी। इसी सूचना के आधार पर गिरोह ने वारदात को अंजाम दिया था, लेकिन सूचना के अनुसार नकदी रुपया नही मिला। घटना को अंजाम देने से पहलें बैडरुम का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया था और उन्होंने परिवार के सदस्य के विरोध करने पर हत्या करने तक की तैयारी कर रखी थी। घटना को अंजाम देने के बाद नगदी 75000/-रुपये व ज्वेलरी का पाँचो आरोपियो ने आपस मे बॉटकर नगदी रूपयें खर्च कर दिये थे।
पुलिस टीम द्वारा घटना मे प्रयुक्त सेन्ट्रो कार क्रमांक एमपी-09/एचबी-6039 तथा स्विफ्ट डिजायर नम्बर एमपी-09/सीआर-0154 एवं करीब पाँच लाख रुपये की सोने की ज्वेलरी जप्त की गई है।
गिरोह के सभी सदस्य है खुखार आदतन बदमाश, आरोपी अनिष पिता चांद खा है चन्दननगर थाने का हिस्ट्रीशिटर बदमाश जो कई मामलो मे फरार चल रहा था।
आरोपी सिकन्दर 06 लाख की लूट मे बागली जिला देवास मे निरुद्ध है। बदमाशो ने पूछताछ मे थाना द्वाराकापुरी व खरगोन जिले के सनावद थाना क्षेत्र मे भी चोरी करने की वारदाते स्वीकार की है। जिनसे अन्य पूछताछ जारी है ।

उक्त कार्यवाही मे वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी संतोष दूधी, सउनि. जयेन्द्र सिहं कुशवाह, आर. देवेन्द्रसिहं जादौन आर. राजकुमार चौबे, आर. मनोज नायक, आर. लोकेन्द्र सिहं सायबर  सेल, की टीम की सरहानीय व महत्वपूर्ण भूमिका रही ।