कर्नाटक के नाटक का Count Down शुरु, स्पीकर ने दिया आज 11 बजे तक का समय

बेंगलूरु: कर्नाटक में सत्ता को लेकर छिड़ा संघर्ष एक दिन और आगे बढ़ गया। विधानसभा में विश्वासमत अभी तक नहीं हो पाया है। अब स्पीकर ने बागी विधायकों को नोटिस जारी करके मंगलवार सुबह 11 बजे तक का समय दिया है। कांग्रेस नेता डी.के. शिवकुमार ने कहा कि भाजपा उन विधायकों को कह रही है कि वे अयोग्य घोषित नहीं होंगे और मंत्री बन जाएंगे जबकि संविधान ऐसा नहीं कहता है। भाजपा को भरोसा था कि सोमवार को विश्वासमत में वोटिंग होने पर कुमारस्वामी सरकार गिर जाएगी।

दूसरी ओर, कांग्रेस-जद (एस) अपनी सरकार बचाने के लिए हर पैंतरे खेल रहे हैं। सोमवार को विधानसभा में कई बार हंगामा भी हुआ और सदन की कार्यवाही स्थगित भी हुई। अपने बागी विधायकों को पाले में लाने के लिए कांग्रेस ने एक और तीर चलाया है। कांग्रेस के संकटमोचक कहे जाने वाले डी.के. शिवकुमार ने कहा कि स्पीकर ने बागी विधायकों को नोटिस देकर उन्हें मंगलवार सुबह 11 बजे तक का समय दिया है। भाजपा इन विधायकों को समझा रही है कि वे अयोग्य साबित नहीं होंगे और उन्हें मंत्री बना दिया जाएगा। भारत के संविधान के अनुसार, एक बार अयोग्य होने के बाद आप मंत्री नहीं बन सकते हैं।

इससे पहले विधानसभा अध्यक्ष के.आर. रमेश कुमार सोमवार को ही फ्लोर टैस्ट कराने पर अड़े थे। उन्होेंने सत्ताधारी गठबंधन के सदस्यों को अपना भाषण जल्द खत्म करने को कहा था ताकि विश्वास मत की प्रक्रिया सोमवार को ही पूरी करवाई जा सके। इस पर सदस्यों ने विरोध जताया। सदन में ‘संविधान बचाओ’ का नारा लगा रहे कांग्रेस-जद (एस) विधायकों से स्पीकर ने कहा कि वह रात के 12 बजे तक बैठने के लिए तैयार हैं। आप सब यह क्या कर रहे हैं? यह सही नहीं है।