नकली दूध बेचने वालों पर रासुका के तहत होगी कार्रवाई- स्वास्थ्य मंत्री

भोपाल: मध्यप्रदेश सरकार ने नकली दूध और मावा बनाने वालों पर सख्ती दिखाते हुए रासुका के तहत कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। सोमवार को स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय कमेटी की बैठक में इसे लेकर व्यापक दिशा-निर्देश दिए गए। स्वास्थ्य मंत्री ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि घातक पदार्थों से मिलावटी खाद्य पदार्थ जिनमें दूध, मावा, मिठाई व अन्य दूध उत्पाद बनाने वालों पर नजर रखी जाए तथा उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। दूध एवं दूध से बनने वाले उत्पादों की शुद्धता को सुनिश्चित करने के लिए उड़नदस्ता बनाए जाए।

ये उड़नदस्ते वन विभाग के उ़डदस्ते की तरह काम करेगें। इनकी टीम में खाद्य एवं औषधि प्रशासन के अधिकारी, जिला खाद्य विभाग के अधिकारी और जिला प्रशासन के अधिकारी रहेंगे। बता दें कि हाल ही में एसटीएफ ने भिंड, मुरैना में सिंथेटिक दूध बनाने वाली फैक्ट्रियों के दौरान काफी मात्रा में नकली दूध पकड़ा था। यह दूध पांच राज्यों में सप्लाई किया जाता था।