भीड़ ने मानसिक रोगी को बच्चा चोर समझकर की पिटाई

इंदौर: इंदौर के लसूड़िया थाना क्षेत्र में एक मानसिक रोगी की पिटाई का मामला सामने आया है। दरअसल भीड़ ने 30 वर्षीय एक युवक को बच्चा चोर समझकर उसकी पिटाई कर दी और पुलिस को सौंप दिया। लोगों को शक था कि युवक कार में बैठी एक बच्ची को बाहर निकालने की कोशिश कर रहा था।

जानकारी के अनुसार, बुधवार शाम निरंजनपुर स्थित खालसा चौक के पास एक मानसिक रुप से कमजोर तेजराम चौहान की लोगों ने पिटाई कर दी। उस पर आरोप था कि वह एक दंपती जो सब्जी मंडी के पास कार खड़ी कर सब्जी खरीदने गया था। युवक उनकी कार में बैठी बच्ची को निकालने की कोशिश कर रहा था। मौके पर एक अन्य कार भी खड़ी थी, जिसमें महिलाएं बैठी हुई थी। जो मौके से फरार हो गई। इस घटना का एक वीडियो सामने आया है।

इस वीडियो में लोग अर्धनग्न युवक की पिटाई कर रहे हैं। लसूड़िया पुलिस थाना प्रभारी संतोष कुमार दूधी ने बृहस्पतिवार को बताया कि हमने मामले की तसदीक की है। आरोपी चौहान नजदीक के बेटमा गांव का रहने वाला है। उन्होंने बताया कि शराब की एक दुकान के पास मौजूद लोगों ने चौहान की मानसिक स्थिति जाने बगैर शोर मचा दिया। चौहान को दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 151 के तहत गिरफ्तार किया गया है।