इस वजह से की गई बालटाल मार्ग से अमरनाथ यात्रा स्थगित, पहलगाम से जारी

श्रीनगरः जम्मू-कश्मीर में भारी बारिश के कारण सड़क पर फिसलन बढ़ जाने से बालटाल आधार शिविर से अमरनाथ गुफा स्थित बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए यात्रा शनिवार को स्थगित कर दी गयी जबकि आकाश में बादल छाये रहने के बावजूद परंपरागत पहलगाम मार्ग पर यात्रा बहाल है।

एक जुलाई से शुरु हुई इस वार्षिक यात्रा के दौरान अब तक 3.16 लाख यात्री बाबा बर्फानी के दर्शन कर चुके हैं। दृश्यता का स्तर कम होेने के बारण बालटाल से गुफा तक की हेलिकॉप्टर सेवा भी स्थगित कर दी गयी है। एक यात्रा अधिकारी ने यूनीवार्ता को बताया कि सड़क पर फिसलन बढ़ने के कारण बालटाल आधार शिविर से किसी भी यात्री को आगे बढ़ने की अनुमति नहीं दी गयी है।

इस बीच जम्मू के भगवती नगर आधार शिविर यात्री निवास से आज सुबह बारिश की फुहारों के बीच 3926 तीर्थ यात्रियों का नया जत्था ‘बम बम भोले’ के उद्घोष के साथ कड़ी सुरक्षा के बीच अमरनाथ गुफा स्थित बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए रवाना हुआ। खराब मौसम के कारण शुक्रवार को जम्मू से यात्रा स्थगित रही। अधिकारी ने बताया कि आसमान में बादल छाये हुए हैं और हल्की बारिश भी हुई है।

उन्होंने बताया कि मौसम और मार्ग की स्थिति में सुधार होने के बाद ही सबसे छोटे बालटाल मार्ग से यात्रा बहाल हो सकेगी। आज सुबह गुफा से बालटाल के लिए रवाना होेने वाले यात्रियों को भी आगे बढ़ने से रोक दिया गया है। परंपरागत पहलगाम मार्ग पर यात्रा सुचारु रुप से चल रही है और यात्रियों का नया जत्था आज नुनवान पहलगाम आधार शिविर से चंदनवाड़ी के लिए रवाना हुआ। यात्रा अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार को 5745 यात्रियों ने पवित्र शिवलिंग के दर्शन किये।