कमलनाथ सरकार दूध में मिलावट को लेकर हुई सख्त, जिला बदर होंगे मिलावटखोर

भोपाल: प्रदेश में लगातार दूध, मावा व पनीर में मिलावट के मामले सामने आ रहे है। जिसे लेकर सरकार अब कड़ा रुख अपना रही है। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसी सिलावट ने शुक्रवार को कहा है कि दूध और दूध से बने पदार्थों और खाने पीने की अन्य चीजों में मिलावट करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

इस बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने जिला स्तर पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को मिलावटखोरों पर कार्रवाई करने के निर्देश देते हुए कहा कि जरूरत पड़ने पर मिलावटखोरों के खिलाफ जिलाबदर की कार्रवाई की जाए। जिससे लोग मिलावट करने से डरें। इतना ही नहीं कमलनाथ सरकार मिलावटखोरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने वाले अधिकारियों/कर्मचारियों को संरक्षण का प्रावधान भी करेगी।

गौरतलब है कि इससे पहले भिंड मुरैना और ग्वालियर में सिंथेटिक मिल्क मावा और पनीर मिलने के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने ऐसे व्यापारियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की बात कही थी।