उन्नावः दुष्कर्म पीड़िता की कार को ट्रक ने मारी टक्कर, हालत गंभीर, चाची-मौसी की मौत

रायबरेली। उन्नाव के माखी के चर्चित दुष्कर्म मामले की पीड़िता की कार रविवार रायबरेली में एक ट्रक से टकरा गई। हादसे में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता की चाची की मौके पर ही मौत हो गई। पीड़िता समेत तीन लोग जख्मी हो गए, जिन्हें ट्रॉमा सेंटर लखनऊ रेफर किया गया, जहां एक महिला की और मौत हो गई है

रविवार दिन में करीब एक बजे तेज बारिश हो रही थी। इसी दौरान लालगंज की ओर से जा रहे ट्रक यूपी 71 एटी 8300 और रायबरेली जा रही सफेद रंग की कार डीएल 1 सीएल 8642 में जबर्दस्त टक्कर हो गई। हादसे में एक महिला की मौके पर ही मौत हो चुकी थी, जबकि दुष्कर्म पीड़िता समेत तीन लोगों को रायबरेली के जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां अज्ञात घायल के तौर पर भर्ती करके बाद में लखनऊ ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया।

उधर, लखनऊ में एक महिला की और मौत हो गई। रेप पीड़िता और उनके वकील की हालत नाजुक बताई गई है। रेप पीड़िता के चाचा रायबरेली जेल में बंद है। रविवार को ये सभी लोग उनसे मिलने जा रहे थे। हादसा गुरुबक्शगंज थाना क्षेत्र में रायबरेली-बांदा हाईवे पर सुल्तानपुर खेड़ा मोड़ के पास हुआ।

प्रत्यक्षदर्शी बोले, ट्रक रहा बेकाबू

सड़क सुनसान थी। तेज बारिश हो रही थी और रायबरेली से लालगंज की ओर ट्रक जा रहा था। तीखे मोड़ पर कार भी आ गई। और ट्रक बेपटरी हो गया। कार अपनी लाइन में घिसटते हुए ट्रक में टकरा गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। ड्राइवर वाला हिस्सा ध्वस्त हो गया।

नंबर पर पोती गई थी ग्रीस

यूपी 71 एटी 8300 यही नंबर प्लेट ट्रक के आगे और पीछे लगी है लेकिन दोनों ओर उसे ग्रीस से पोता गया था, ताकि नंबर छिपा रहे। अब यह किन कारणों से किया गया। आरटीओ की डर या फिर कोई और कारण। यह तो पुलिस तफ्तीश में सामने आ पाएगा।

फतेहपुर का है ड्राइवर

दुर्घटना वाले ट्रक का ड्राइवर देर शाम पुलिस के हत्थे चढ़ गया। थानाध्यक्ष राकेश प्रताप सिंह ने बताया कि फतेहपुर का आशीष पाल ट्रक चला रहा था। उसकी उम्र करीब 25-26 साल है। जब थानाध्यक्ष से पूछा गया कि क्या उसने शराब पी रखी थी तो वह बोले, घटना के इतनी देर बाद मिला है। ऐसा कुछ लगा नहीं। उनसे सवाल हुआ कि कहां से पकड़ा आप ने तो उनका मोबाइल बंद हो गया।

दुर्घटना लग रही है, एक्सपर्ट तय करेंगे कारण : एसपी

पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह मौके पर छानबीन कर रहे थे। वहीं जब उनसे सवाल हुआ कि घटना के पीछे कोई वजह? वे बोले, प्रथम ²ष्टया तो यह मार्ग दुर्घटना लग रही है। चूंकि पानी तेज था। कारणों की जांच भी करने एक्सपर्ट टीम लखनऊ से आ रही है। उसके बाद ही स्थिति साफ हो सकेगी।